खुशखबरी है कि मार्च के महीने से 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना का टीकाकरण शुरू हो जाएगा। अभी स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाई जा रही है। अब इसके बाद 50 वर्ष से अधिक की उम्र वाली आबादी को मार्च 2021 से वैक्सीन लगनी शुरू होगी। इनमें वो लोग भी शामिल हैं जो किसी न किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं और उनकी उम्र 20 से 50 वर्ष है।

दिल्ली स्थित AIIMS के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने इस बारे में जानकारी दी है। डॉ. रणदीप गुलेरिया ने यह भी बताया कि हाई रिस्क वर्कर्स की सूची में मवेशियों और पशुओं का इलाज करने वाले लोग शामिल नहीं हैं, क्योंकि वो कोविड-19 मरीजों का इलाज नहीं कर रहे हैं।

डॉ. गुलेरिया ने साफ किया कि वैक्सीन लगाने की प्राथमिकता इस बात पर निर्भर करती है कि किसी शख्स की उम्र क्या है और कहीं वह किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित तो नहीं है।