पश्चिम बंगाल में जीत के बाद तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भतीजे अभिषेक को प्रमोट कर दिया है। पार्टी में उनका कद बढ़ा दिया गया है। उन्हें टीएमसी का महासचिव बना दिया गया है तो अभिषेक की जगह तृणमूल यूथ कांग्रेस की जिम्मेदारी पार्टी नेता और एक्टर सायोनी घोष को दी गई है। पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी की अगुआई में शनिवार को हुई पार्टी की एक अहम बैठक में ये फैसले लिए गए। 

टीएमसी नेता कुनाल घोष को पार्टी के राज्य ईकाई का महासचिव बनाया गया है। वरिष्ठ नेता पार्था चटर्जी ने पार्टी के फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि वर्किंग कमिटी ने तय किया है कि पार्टी में एक व्यक्ति के पास एक ही पद रहेगा। कोर कमिटी ने इसे मंजूरी दे दी है। 

भतीजे अभिषेक ममता के बेहद विश्वासपात्र लोगों में शामिल हैं और विधानसभा चुनाव में उन्होंने काफी मेहनत की थी। पार्टी में उन्हें दी गई अहमियत की वजह से ही भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव प्रचार में कहना शुरू कर दिया था कि ममता बनर्जी अब भतीजे को मुख्यमंत्री बनाना चाहती हैं। हालांकि, अभिषेक का पार्टी में दखल बढ़ने से कई पुराने नेता नाराज भी हो गए थे और बीजेपी में शामिल हो गए थे।

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के रणनीतिकार रहे प्रशांत किशोर भी टीएमसी की बैठक में मौजूद रहे। प्रशांत किशोर और अभिषेक बनर्जी ने बंगाल चुनाव में साथ मिलकर काम किया था। विधानसभा चुनाव में टीएमसी ने 213 सीटों पर जीत दर्ज की थी तो बीजेपी को 77 सीटों से संतोष करना पड़ा था।