दिग्गज गायक अौर संगीतकार भूपेन हजारिका पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान को नेडा अध्यक्ष तथा राज्य के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने असमिया समाज का अपमान बताया है। उन्होंने कहा है कि भूपेन हजारिका केवल एक गायक नहीं असमिया समाज के प्राण वायु हैं और कांग्रेस नेता द्वारा उन्हें सिर्फ एक गायक बताना असमिया समाज का अपमान है।


सरमा ने मल्लिकार्जुन खड़गे से माफी मांगने की मांग करते हुए कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई खड़गे को यहां बुला कर असमिया समाज से माफी मांगने को कहें और जब तक गोगोई एेसा नहीं करते हैं तब तक वे अपने आप को असमिया नहीं कहें। मंत्री सरमा ने कहा है कि भूपेन हजारिका का अपमान कोई भी असमिया नहीं सह सकता।


दूसरी तरफ आसू के महासचिव लुरिन ज्योति गोगोई ने कांग्रेस पार्टी की आलोचना करते हुए कहा है कि कांग्रेस पार्टी प्रदेश के गायक-संगीतकारों और दूसरे क्षेत्र की हस्तियों को मान्यता नहीं देती है कोई दूसरा देता है उसे अच्छा नहीं लगता।