आम आदमी पार्टी (आप) ने मानव शृंखला अभियान चलाकर निगम चुनाव कराने की मांग करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव रद्द करवाकर दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात किया है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने गुरुवार को कहा कि भाजपा को अहसास था कि इस बार के निगम चुनाव में उनकी हार निश्चित है। 

भाजपा को यह भी पता था कि आम आदमी पार्टी एक तरफा सरकार बनाने वाली है। इसी डर से उन्होंने बहाना बनाकर चुनाव को टालने की कोशिश की है। उनका यह फैसला जनता के अधिकारों का हनन करता है। आम आदमी पार्टी इसका विरोध करती है और इसी सिलसिले में आज ह्यूमन चैन कैंपेन किया। उन्होंने कहा कि कैंपेन के दौरान दिल्ली के सभी फ्लाईओवर पर 'भाजपा ने एमसीडी चुनाव कराया रद्द, हार के डर से भागी भाजपा' के बैनर लगवाए। 

उन्होंने एमसीडी को पहले ही कंगाल कर दिया है। अब जो भी थोड़ा-बहुत बचा है, उसे भी खत्म कर देना चाहते हैं। आप नेता ने कहा कि चुनाव जनता का मूल अधिकार है, उन्हें इस अधिकार से वंचित किया जा रहा है। एमसीडी में भाजपा का पांच साल का कार्यकाल खत्म हो रहा है। इसलिए चुनाव को टालना किसी भी तरह से सही नहीं है। 

आम आदमी पार्टी भाजपा की तानाशाही का विरोध करती है। दिल्ली में एमसीडी चुनाव अपने समय से होने चाहिएं। बात रही यूनिफिकेशन की तो वह चुनाव के बाद भी संभव है। जब तक भाजपा अपने फैसले को वापस नहीं लेती है, हम यह लड़ाई लड़ते रहेंगे। दिल्ली की जनता के साथ मिलकर पुरजोर कोशिश करेंगे कि एमसीडी चुनाव जल्द से जल्द हों। भाजपा की लूट की मंशा को हम पूरा नहीं होने देंगे।