आम आदमी पार्टी के आधे दर्जन से अधिक नेताओं ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया। इनमें कुछ पार्टी के संस्थापक सदस्य भी शामिल रहे। प्रदेश भाजपा कार्यालय पर अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने सभी को पार्टी में शामिल कराया। भाजपा में शामिल होने वाले आप नेताओं ने कहा कि उनकी केजरीवाल सरकार से उम्मीदें टूट गई हैं। दावे के मुताबिक, दिल्ली में आठ साल से कोई बदलाव नहीं आया, जिसकी वजह से उन्होंने पार्टी छोडऩे का फैसला किया।

प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा, ‘‘जितने भी लोग आप से भाजपा में आ कर जुड़े हैं उन्हें यही अफसोस है की जिस उद्देश्य से वो आम आदमी पार्टी से जुड़े थे, वो मुख्यमंत्री केजरीवाल के अहंकार और लालच के आगे कहीं पीछे छूट गया।’’ उन्होंने कहा कि, ‘‘जो पार्टी सत्याग्रह करके सत्ता में आयी थी, वो आज सत्य का आग्रह छोड़ कर झूठ के रास्ते पर चल पड़ी है। बहुत से संस्थापक सदस्य जिन्होंने आम आदमी पार्टी को बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया, उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया या निकलने पर मजबूर कर दिया गया।’’

आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्य होने का दावा करने वाले तपन ऋषि, विमला और नंदला ने कहा, ‘‘हम 2012 में पार्टी से जुड़े थे कि यह पार्टी कुछ बदलाव लाएगी, लेकिन 8 साल हो गए कुछ नहीं बदला। जो यह कह कर आए थे की वो भ्रष्टाचार खत्म करेंगे वहां आज भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है।’’ महिला विंग प्रभारी रजनी, महेंद्र कौर आदि ने भी भाजपा का दामन थामा।