आम आदमी पार्टी (आप)की पंजाब इकाई ने सोमवार को भारत बंद की सफलता पर किसान संगठनों को बधाई दी और इसमें सक्रियता से भाग लेने के आह्वान का समर्थन किया। आप के विधायक और किसान विंग के प्रदेशाध्यक्ष कुलतार सिंह संधवां ने आज यहां कहा कि किसानों के देशव्यापी बंद ने केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को स्पष्ट संदेश दिया है कि किसानों को किसी भी कीमत पर दबाया नहीं जा सकता है और काले कानून निरस्त नहीं होने तक वे पीछे नहीं हटेंगे। 

संधवां ने कहा कि किसानों का आंदोलन न केवल दिल्ली की सीमाओं तक सीमित है, बल्कि अब पूरे देश में फैल गया है और इसका खामियाजा भाजपा और उसके गठबंधन को भुगतना पड़ेगा। किसान देश का गर्व और शान हैं। मोदी सरकार को उनकी बात सुननी चाहिए और तीनों कानून निरस्त करने चाहिए, ताकि किसान अपने घरों को लौट सकें। 

उन्होंने कहा कि आप सदैव किसानों के साथ है और उनके अस्तित्व की लड़ाई में उनके साथ खड़ी रहेगी। आप पार्टी(आप) पहली पार्टी है जो अध्यादेशों के निर्माण और हस्ताक्षर के बाद से कृषि कानूनों का विरोध कर रही है और सभी स्तरों पर किसानों को समर्थन प्रदान करेगी और कृषि कानूनों के निरस्त होने तक उनके साथ खड़ी रहेगी।