जीने के लिए सांसों की जरूरत होती है। खाने बिना रह सकते हैं लेकिन पानी और हवा के बिना नहीं जीया नहीं जा सकता है। हवा के बिना तो जीव-जंतु या इंसान की जिंदा रहना बेहद ही मुश्किल है। सांस के माध्यम से बिना ऑक्सीजन गैस लिए कोई जिंदा नहीं रह सकता है। लेकिन हाल ही में वैज्ञानिकों को एक ऐसा रहस्यमयी जीव मिला है, जो बिना सांस जिंदा है। वैसे तो दिया में कई ऐसे जीव है लेकिन इनके बारे में शोध चल रहा है।


जानकारी के लिए बता दें कि दुनिया का पहला ऐसा जीव है, जिसके अंदर ये अनोखी विशेषता है। जेलीफिश की तरह दिखने वाले इस बहुकोशिकीय जीव में माइट्रोकॉन्ड्रियल जीनोम नहीं है। मुख्य जानकारी दे दें कि किसी भी जीव को सांस लेने के लिए माइट्रोकॉन्ड्रियल जीनोम बेहद ही जरूरी होता है। यही कारण है कि परजीवी को जिंदा रहने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ती है। अवीव यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता ने इस अद्भुत और रहस्यमय जीव को खोज है।


शोधकर्ताओं ने बताया की यह खास जीवी साल्मन फिश में पाए जाते हैं और ये तब तक जिंदा रहते हैं, जब तक कि मछली जिंदा रहती है। इस जीव नाम हेन्नीगुया साल्मिनीकोला है। शोधकर्ता  अब इस बारे में शोध कर रहे हैं कि यह आखिर इस तरह का जीव पृथ्वी पर विकसित कैसे हुआ, जो बिना ऑक्सीजन के भी जिंदा रह सकता है। इंसानों के लिए यह शोध बेहद खास हो सकता है।