चुनाव स्पेशल ट्रेन के जवानों की लापरवाही के चलते मंगलवार को दर्जनों जवानों की जान जा सकती थी, लेकिन हाईड्रेन लाइन की पानी सप्लाई रोकने के बाद हादसा टल गया। दरअसल हुआ यह कि अगरतला जा रही चुनाव स्पेशल टीम दोपहर 12 बजे बिलासपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर आकर रुकी। उसमें सवार जवान प्लेटफार्म की दूसरी ओर बीच वाली रेलवे लाइन की तरफ उतर गए। उन्होंने हाईड्रेन पाइप लाइन का वाल्व खोला और पटरियों के किनारे ही नहाने लगे।


एक वाल्व के टूटते ही पानी फव्वारे की तरह ऊपर फेंकने लगा। उसके पानी के फोर्स की ऊंचाई ओएचई तक पहुंचने वाली थी। अंजान जवान नीचे नहाते रहे। इस बीच किसी रेल कर्मचारी की नजर पड़ी तो उसने स्टेशन मास्टर को सूचना दी।


जानकारी होने के बाद स्टेशन मास्टर ने तत्काल जल विभाग को सूचना देकर हाईड्रेन पाइप की पानी सप्लाई बंद करने कहा। इस बीच जवान भी नहाकर वापस ट्रेन में चढ़ गए। थोड़ी सी चूक होती और पानी का फोर्स ओएचई को छू जाता तो वहीं पर जवानों की करंट से मौत हो जाती।