सूरत (Surat) में कचरे में से प्लास्टिक की थैली में लपेटा नवजात मिला था। इस मामले में पुलिस ने बिहार के युवक को गिरफ्तार किया है। साली के साथ अनैतिक संबंध के चलते वह बिहार से सूरत आया था। हालांकि रास्ते में ही प्रसुति हो जाने से अपना पाप छुपाने नवजात को त्याग देने की चौंकाने वाली कबूलात युवक ने की।

जानकारी के अनुसार पांडेसरा सिद्धार्थनगर तीन रास्ते से बाटलीबॉय तीन रास्ते तरफ जाने वाले मेन रोड पर एमके गैरेज के सामने ओवर ब्रिज के नाके पर कचरे में से एक नवजात मिला था। पांडेसरा पुलिस ने नवजात को त्याग देने वाले माता-पिता के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी।

 पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले जिसमें एक युवक बाइक पर मासूम को त्याग कर जाते हुए कैमरे में कैद होते दिखा। इस पर पुलिस ने बाइक नंबर के आधार पर क्षेत्र के सभी सीसीटीवी खंगाले। इसके बाद श्रीनाथ सोसायटी में बहनोई के घर से 21 वर्षीय रजनीशकुमार रविंद्र पासवान को पुलिस ने पकड़ा। रजनीश की पूछताछ में वह बिहार के नालंदा जिला का निवासी होने और उसके साली के साथ अनैतिक संबंध होने की बात कही। साली गर्भवती होने से वह बिहार से सूरत डिलीवरी के लिए आया था और पांडेसरा के अस्पताल में गया था।

हालांकि कुछ कारणों से अस्पताल ने भर्ती करने से इंकार कर दिया और रास्ते में ही प्रसूति हो गई। जिससे नवजात को प्लास्टिक की थैली में लपेटकर त्याग दिया। फिलहाल पुलिस रजनीश की पूछताछ कर रही है।