उत्तर प्रदेश में छापों का सिलसिला भी जारी है. ताजा मामला जौनपुर का है, जहां 2 सर्राफा व्‍यवसायियों के 5 ठिकानों पर आयकर विभाग की टीम ने छापे मारे हैं. इस दौरान आयकर विभाग की टीम को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. आयकर विभाग की टीम को छापे में 50 करोड़ रुपये की आय से अधिक संपत्ति का पता चला है. नगदी के अलावा अन्‍य मदों में संपत्ति का पता चला है. जौनपुर इलाके में दो सर्राफा कारोबारियों के यहां पिछले तीन दिनों से छापेमारी चल रही थी. छापेमारी की प्रक्रिया बुधवार देर रात समाप्‍त हुई.

यह भी पढ़े : Horoscope January 3 : इन राशि वालों की किस्मत में लगेंगे चार चांद, बन रहे हैं लाभ ही लाभ के योग

जानकारी के मुताबिक, I-T टीम ने दो बड़े प्रतिष्ठानों समेत 5 ठिकानों पर छापेमारी की थी. भारी पुलिसबल के साथ I-T डिपार्टमेंट ने रेड की कार्रवाई को अंजाम दिया. आयकर विभाग की टीम लगातर 3 दिनों तक सर्राफा कारोबारियों के ठिकानों को खंगालती रही. इस दौरान टीम को 50 करोड़ से अधिक की आय  से अधिक संपत्ति का पता चला. इस दौरान टीम मीडिया कैमेरे से लगातार दूरी बनाई रही. बीती देर रात कार्रवाई पूरी करने के बाद टीम वापस लौट गई. नगर कोतवाली के गहना कोठी, किर्ति कुंज समेत 5 ठिकानों पर आईटी ने छापेमारी का अभियान चलाया था.

मंगानी पड़ी नोट गिनने की मशीन

नोट गिनने की मशीन और ज्‍वेलरी तोलने का कांटा भी छापेमारी के दौरान मंगाए गए थे. आयकर की टीम की वजह से अधिकांश नगर इलाके के ज्वेलर्स और छोटे कारोबारियों की दुकानें  बंद रहीं. जौनपुर में आई टीम की छापेमारी की कार्रवाई आयकर निदेशक राजेश सिंह के नेतृत्व में पूरी की गई. जौनपुर में आए आयकर अधिकारी ने न्यूज़ 18 से फोन पर देर रात तक बड़ी कार्रवाई की जाने की बात बताई थी.

यह भी पढ़े : ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार नीलम रत्न व्यक्ति को रंक से राजा बना सकता, कुंडली दिखाकर ही करें धारण


करीब सवा दो करोड़ की ज्वेलरी

बता दें कि उत्तर प्रदेश में इन दिनों आयकर विभाग धनकुबरों के ऊपर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है. इससे पहले बुधवार को ही खबर सामने आई थी कि नोएडा में इनकम टैक्स विभाग की टीम ने यूपी के पूर्व आईपीएस अधिकारी राम नारायण सिंह के घर पर छापेमारी की है, जहां से करोड़ों रुपए के खजाने और गहने हाथ लगे हैं. नोएडा के सेक्टर 50 में उनके घर पर बीते तीन दिनों से यह छापेमारी जारी है. बताया जा रहा है कि बरामद रुपयों और गहनों का पूर्व आईपीएस अधिकारी से कोई लेना-देना नहीं है. बुधवार को उनके आवास पर एक लॉकर से करीब सवा दो करोड़ की ज्वेलरी मिली है.

करोड़ों रुपये की रकम बरामद

दरअसल, राम नारायण सिंह के आवास में बने लॉकर से जुड़े मामले में इनकम टैक्स विभाग के सर्वे में एक और सफलता हाथ लगी है. इनकम टैक्स की टीम ने एक और संदिग्ध लॉकर मिला है, जिसमें तकरीबन सवा दो करोड़ रुपये की ज्वेलरी है. सूत्रों के मुताबिक, यह लॉकर दिल्ली में रहने वाले एक कारोबारी का है. फिलहाल, आयकर विभाग की टीम वहीं मौजूद है और सर्वे का काम कर रही है. इलसे पहले मंगलवार को छापेमारी में आयकर विभाग को नोएडा में पूर्व आईपीएस के घर के बेसमेंट में कई लॉकर मिले थे, जिनमें करोड़ों रुपये की रकम बरामद की गई.