पश्चिम बंगाल के हुगली ज‍िले के सिंगूर के रहने वाले चौथी कक्षा के एक नन्हें छात्र ने अनोखा कारनामा कर दिखाया है। सिर्फ 9 वर्ष की छोटी उम्र में अपने संगीत की जादूगरी के बल पर इस बच्चे ने पूरे एशिया के बेस्ट माउथ ऑर्गन (Mouth Organ) कलाकार का गौरव प्राप्त किया है। इतना ही नहीं बल्कि इसने 'इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स' में अपना नाम दर्ज करा लिया है।

इस अनोखे कलाकार का नाम संतम दास है। इसने लगातार 1 घंटे तक माउथ ऑर्गन बजाकर एक साथ 45 हिंदी, बांग्ला और अंग्रेजी गानों को अपने मधुर सुर में पिरोने का कारनामा करके दिखलाया है।

संतम अपनी प्रतिभा को निखारते हुए माउथ ऑर्गन बजाने की अपनी कला को इस ऊंचाई तक ले गया कि देश के रिकॉर्ड दर्ज कराने वाली प्रतिष्ठित संस्था 'इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स' (india book of records) ने इस नन्हें कलाकार का नाम स्वर्णाक्षरों में लिख दिया।

संतम के पिता संजय दास ने बताया कि माउथ ऑर्गन बजाने के अलावा उनका बेटा पढ़ाई-लिखाई में भी काफी लगन और निष्ठा के साथ समय देता है। उन्होंने बताया कि संगीत के माध्यम से वह चाहते हैं कि उनका बेटा बंगाल और पूरे देश में प्रेम और सौहार्द का संदेश दे।