रूस द्वारा 24 फरवरी को यूक्रेन पर आक्रमण करने के बाद से अब तक कम से कम 6 वरिष्ठ रूसी सैन्य अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया है। ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय को अपने नियमित खुफिया अपडेट में जानकारी दी गई कि युद्ध के दौरान सशस्त्र बलों के खराब प्रदर्शन का हवाला देते हुए कम से कम छह कमांडरों को बर्खास्त किया गया।

ये भी पढ़ेंः खूंखार पिटबुल डॉग को घर में पालने से पहले पढ़ लीजिए ये खबर, दहल जाएगा आपका दिल


अन्य अधिकारियों के अलावा, जनरल अलेक्जेंडर ड्वोर्निकोव को भी यूक्रेन में ऑपरेशन की कमान दिए जाने के बाद हटा दिया गया। अपडेट रिपोर्ट में कहा गया कि यूके्रन में युद्ध के मैदान में कम से कम 10 रूसी जनरल मारे गए। ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेन युद्ध पर अपनी कुछ खुफिया जानकारी ट्विटर पर डेली अपडेट में प्रकाशित की।

ये भी पढ़ेंः दुनिया के इस खूंखार देश ने एक और खतरनाक आतंकवादी को उतारा मौत के घाट, जानिए कैसे


वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने देश में रूसी सेना के खिलाफ सफलतापूर्वक जवाबी हमला करने के लिए देश की सेना की प्रशंसा की है, इसके साथ ही उन्होंने संघर्ष में पश्चिमी हथियारों द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका पर भी जोर दिया है। जेलेंस्की ने अपने वीडियो संबोधन में कहा, पिछले सप्ताह यूक्रेनी सेना ने रूसी सेना के रसद को नष्ट करने में शक्तिशाली परिणाम हासिल किए थे। जेलेंस्की ने कहा, दुश्मन के गोला-बारूद डिपो पर उनके कमांड पोस्ट पर, रूसी उपकरणों के संचय पर हर हमले से हम सभी, यूक्रेनी सेना और नागरिकों की जान बच जाती है। यूक्रेन के पश्चिमी भागीदारों के हथियारों की डिलीवरी के लिए आभार व्यक्त करते हुए, जेलेंस्की ने विशेष रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका को धन्यवाद देने का एक बिंदु बनाया। वाशिंगटन की हालिया घोषणा के बाद कि वह कीव को 550 मिलियन डॉलर और हथियारों की आपूर्ति करेगा।