दिल्ली में आज से 4 दिवसीय मोबाइल कांग्रेस की शुरुआत होने जा रही है और इसी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  भारत में बहुप्रतीक्षित 5जी सेवाओं (5 G Services) की शुरुआत करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ  वाराणसी में 5जी सेवा का उद्धघाटन करेंगे। पहले फेज में देश के 13 शहरों अहमदाबाद, बेंगलुरु, चंडीगढ़, चेन्नई, दिल्ली, गांधीनगर, गुरुग्राम, हैदराबाद, जामनगर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे में 5G की शुरुआत की जाएगी।

यह भी पढ़े : Shani Dev: धनतेरस के दिन इन 5 राशियों को होगा महा लाभ, आर्थिक उन्नति का मौका मिलेगा


इन देशों में चल रही है 5 जी सर्विस

विशेषज्ञों की मानें तो कमर्शियल 5G सर्विस की शुरुआत तो आज यानि 1 अक्टूबर से हो जाएगी, लेकिन आमजन तक इस सेवा को पहुंचने में तकरीबन एक साल का समय लग सकता है। भारत में 5जी लॉन्च होने के साथ ही उन देशों में शामिल हो जाएगा जहां पर पहले से 5जी चल रहा है। अमेरिका, कोरिया, जापान और यूके पिछले साल ही 5जी सेवाओं को लागू कर चुके हैं अब भारत भी इन देशों की लिस्ट में शामिल होने जा रहा है। 4जी की तुलना में 5जी नेटवर्क कई गुना तेज गति देता है और बाधा रहित संपर्क मुहैया कराता है और अरबों जुड़े डिवाइसों को वास्तविक समय में डेटा साझा करने में सक्षम बनाता है।

यह भी पढ़े : 18 अक्टूबर तक इन राशियों लिए समय बहुत ही खास होने वाला है, खुलेंगे तरक्की के रास्ते


इन दिग्गजों ने खरीदे हैं 5 जी स्पेक्ट्रम

देश की अबतक की सबसे बड़ी दूरसंचार स्पेक्ट्रम की नीलामी में रिकॉर्ड 1.5 लाख करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त हुई थीं। इसमें उद्योगपति मुकेश अंबानी की जियो ने 87,946.93 करोड़ रुपये की बोली के साथ बेचे गए सभी स्पेक्ट्रम का लगभग आधा हिस्सा हासिल किया है। वहीं, दूरसंचार क्षेत्र के दिग्गज सुनील भारती मित्तल की भारती एयरटेल ने 43,039.63 करोड़ रुपये की सफल बोली लगाई, जबकि वोडाफोन-आइडिया ने 18,786.25 करोड़ रुपये में स्पेक्ट्रम खरीदा है।