बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि 20 अप्रैल के बाद लॉकडाउन में दी गयी ढील से विभाग एवं इसके अधीनस्थ निगमों की ओर से कार्यान्वित 397 सड़क निर्माण योजनाओं का कार्य शुरू हो गया, जिससे 10 हजार से अधिक मजदूरों को काम मिल गया है।


यादव ने आज यहां बताया कि इन परियोजनाओं में 10 हजार से अधिक मजदूर कार्यरत हैं। सभी कार्यस्थलों पर मजदूरों की प्रतिदिन स्क्रीनिंग, मास्क सैनिटाइजर एवं थर्मल स्क्रीनिंग सुनिश्चित किया जाता है। विभाग के कंट्रोल रूम से योजनाओं के बारे में प्रतिदिन रिपोर्ट प्राप्त कर कड़ी निगरानी की जा रही है। मंत्री ने बताया कि राज्य में अप्रैल, मई एवं जून काम के लिए प्रमुख माह होता है। इसलिए, विभाग पूरी सतर्कता एवं सूझबूझ से एक ओर जहां कोरोना से अपने कर्मियों की सुरक्षा के लिए सतर्क है वहीं कार्य में प्रगति को सुनिश्चित करने की दिशा में प्रयासरत है।


यादव ने बताया कि विभाग के कार्यों में मजदूरों की कमी बाधक अवश्य बनी है लेकिन विभाग सतत समन्वय कर समस्या का हल निकाल रहा है। इसके साथ ही निर्माण सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए खनन एवं भूतत्व विभाग से समन्वय स्थापित किया गया है। साथ ही पड़ोसी राज्य झारखंड से रेलवे रेक के जरिये सामग्रियों का परिवहन कराया जा रहा है।