कोरोना वायरस ने देश में आतंक फैला रखा है। इसको नियंत्रण करने की पूरी कोशिश की जा रही है लेकिन यह काबू में नहीं आ रहा है। दिन-ब-दिन इसके प्रकोप से लोग अपनी जान गवां रहे हैं। लॉकडाउन लागू होने के बाद भी कोरोना के मरीजों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इसके कारण से सभी व्यापार ठप पड़े हैं जिससे अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।

लॉकडाउन में लोगों की जरूरतों को देखते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पीएम केयर फंड से 3100 करोड़ रुपये दिए जाने की घोषणा की गई है। जारी बयान बताया गया है कि 3100 करोड़ में से 2 हजार करोड़ रुपये वेंटिलेटर खरीद के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे।

इसी के साथ 1 हजार करोड़ रुपये का इस्तेमाल प्रवासी मजदूरों के कल्याण के लिए किया जाएगा और 100 करोड़ रुपये वैक्सीन के डिवलेपमेंट पर खर्च किए जाएंगे। बता दें कि प्रधानमंत्री ने 27 मार्च को कोरोना जंग के लिए देश में पीएम केयर फंड की शुरुआत की थी जिसमें लाखों लोगों ने फंड में दान किया था। जानकारी के लिए बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की है।