अफगानिस्तान में तालिबान और अफगान सेना के बीच संघर्ष लगातार बढ़ता ही जा रहा है। बीते 24 घंटे में अफगान सेना ने 300 से ज्यादा तालिबानी मार गिराए हैं, जबकि 125 से ज्यादा घायल हुए हैं। रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। 

अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक नंगरहार, लगमन, गजनी, पक्तिका, कंधार, जाबुल, हेरात, जोज्जान, समांगन, फरयाब, सर-ए पोल, हेलमंद, निमरूज, कुंदुज, बगलान और कपिसा में सेना ने बीते 24 घंटे में ऑपरेशन चलाया। इसके अलावा हथियारों का जखीरा और लड़ाकों का ठिकाना भी ध्वस्त कर दिया गया है। पाकिस्तान की मदद से अफगानिस्तान में दहशत फैला रहे तालिबान ने देश के अधिकतर हिस्से पर कब्जा कर लिया है। अमेरिकी सेना की वापसी के साथ ही देश की बागडोर तालिबान के हाथों में जाते ही दिख रही है। 

हालांकि अफगान सेना के पलटवार ने यहां गृह युद्ध जैसी स्थिति पैदा कर दी है। एक दिन पहले ही तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान के कार्यवाहक रक्षा मंत्री बिस्मिल्ला खान मोहम्मदी को निशाना बनाया था। हालांकि मंत्री इस हमले में बाल-बाल बच गए। उनके घर पर हमला किया गया था, लेकिन उस समय रक्षा मंत्री घर पर नहीं थे। अफगानिस्तान में तालिबान लगातार आक्रमक हो रहा है। टोलो न्यूज ने उरुजगन गवर्नर मोहम्मद उमर शिरजाद के हवाले से बताया कि तालिबान ने अफगानिस्तान के प्रसिद्ध कवि और इतिहासकार अब्दुल्ला आतिफी की हत्या कर दी है। अब्दुल्ला की हत्या 4 अगस्त को उरुजगन प्रदेश के चोरा जिले में उनके घर के बाहर कर दी गई है। तालिबान ने अब तक इस मसले पर कोई भी बयान नहीं दिया है। हालांकि इससे पहले उसने कॉमेडियन नजर मोहम्मद की हत्या कर दी थी।