जम्मू-कश्मीर में बारामूला जिले के सोपोर में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में तीन अज्ञात आतंकवादी मारे गये। एक पुलिस अधिकारी ने यहां बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह , 52 राष्ट्रीय राइफल्स और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने सोमवार रात बारामूला जिले में सोपोर के पेठसीर में संयुक्त घेराबंदी एवं तलाशी अभियान शुरू किया। 

सुरक्षा बलों ने बाहर जाने वाले सभी रास्तों को सील कर घर-घर तलाशी शुरू की। सुरक्षा बल के जवान करीब 23.45 बजे जब एक विशेष इलाके की ओर बढ़ रहे थे तभी वहां छिपे आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। उन्होंने बताया कि तडक़े हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये और तीसरा आतंकवादी अपराह्न में मारा गया। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार और गोला-बारूद सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गयी है। कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए आस-पास के इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सभी सुरक्षा एजेंसियों के सामूहिक प्रयासों से इस वर्ष घाटी में अब तक 100 से अधिक आतंकवादी मारे गये हैं। कश्मीर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) विजय कुमार ने मंगलवार को बताया कि जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना, सीआरपीएफ और कश्मीर के लोगों के सामूहिक प्रयासों से कश्मीर संभाग में 2021 में अब तक 100 से अधिक आतंकवादी मारे गये हैं। कुमार ने आतंकवाद का रास्ता अपनाने वाले सभी ‘गुमराह युवाओं’ से एक बार फिर अपील की कि वे हिंसा का रास्ता छोड़कर मुख्यधारा में लौट आयें। 

कुमार ने कहा कि पुलिस उन्हें खुले दिल से स्वीकार करने के लिए प्रतिबद्ध है क्योंकि समाज को, विशेष रूप से उनके माता-पिता को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत है। गौरतलब है कि पिछले 24 घंटों के दौरान, कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों के साथ दो अलग-अलग मुठभेड़ों में लश्कर-ए-तैयबा के दो शीर्ष कमांडरों सहित चार आतंकवादी मारे गये हैं। श्रीनगर के अलोची बाग इलाके में सोमवार शाम जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ एक त्वरित और संक्षिप्त मुठभेड़ में लश्कर के दो शीर्ष कमांडर अब्बास शेख और साकिब मनूर डार मारे गये। उत्तरी कश्मीर में बारामूला जिले के सोपोर में सुरक्षा बलों के घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू करने के बाद मंगलवार को हुई मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकवादी मारे गये।