मेघालय के पश्चिमी जैनतिया पहाड़ी  जिले में गांव के मुखिया और ग्राम सचिव सहित कुल 3 लोगों की हत्या कर दी गई है। इस हमले में 3 अन्य लोग भी घायल हुए हैं। पुलिस ने बताया कि हमलावर गो तस्करी से जुड़े थे। हमले के शिकार सभी छह आदमी शुक्रवार करीब दोपहर 2.30 बजे अमलाराम तहसील में एक अधिकृत बैठक में में भाग लेने के बाद अपने गांव अमलानी लौट रहे थे।

पुलिस अधीक्षक विवेक सिएम के मुताबिक, तरांगब्लांग गांव के पास इन सभी को रोकने के बाद संदिग्ध गो-तस्करों ने उन पर हमला कर दिया। हमले में गांव के मुखिया, ग्राम सचिव व एक अन्य पंचायत सदस्य की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 3 अन्य गंभीर घायल हो गए।

घायलों को जोवाई के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुख्य आरोपी, उसके भाई और उसके चचेरे भाई को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि मुख्य आरोपी के एक अन्य भाई समेत तीन अन्य आरोपियों को बाद में हिरासत में लिया गया।

ग्रामीणों के अनुसार, मुखिया व अन्य ग्रामीणों ने शुक्रवार के हमले के मुख्य आरोपी को इसी सप्ताह बुधवार को गायों को तस्करी कर बांग्लादेश ले जाते समय रोक लिया था और उनकी जमकर पिटाई कर दी थी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर तब इन सभी को ग्रामीणों से छुड़ा लिया था और मुखिया व अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। माना जा रहा है कि इस पिटाई का बदला लेने के लिए मुख्य आरोपी ने अपने भाइयों व साथियों के साथ मिलकर शुक्रवार को हमले को अंजाम दिया है।