जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गये जिनमें से एक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पार्षद की हत्या में शामिल था। कश्मीर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक के. विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में मारा गया आतंकवादी वकील शाह त्राल इलाके में दो जून को भाजपा के नगर निगम पार्षद राकेश पंडिता की हत्या में शामिल था। 

एक पुलिस प्रवक्ता ने यहां बताया कि पुलवामा में अवंतीपोरा के नागबेरन त्राल के वन क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह , केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल और राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों ने शनिवार तडक़े एक संयुक्त घेराबंदी एवं तलाशी अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि जंगल में आतंकवादियों के छिपने के स्थान की ओर बढऩे के दौरान दहशतगर्दों ने सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया। 

सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई के साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गयी, जिसमें जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गये। वन क्षेत्र में तलाशी अब भी जारी है। इन आतंकवादियों के मारे जाने के साथ ही दक्षिण कश्मीर में पिछले 24 घंटों के दौरान सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादियों की संख्या पांच हो गयी है। पुलिस महानिदेशक ने सुरक्षा एजेंसियों को दक्षिण कश्मीर में घेराबंदी एवं तलाशी अभियान तेज करने के निर्देश दिये हैं। गौरतलब है कि पिछले महीने इसी प्रतिबंधित संगठन के दो आतंकवादियों को सुरक्षा बलों ने जंगल में मार गिराया था, हालांकि कुछ आतंकवादी भागने में सफल रहे।