Corona वायरस का कहर अब Doctors पर टूटा है जिसके चलते अब तक 270 डॉक्टरों की जान जा चुकी है। भारतीय चिकित्सक संघ (आईएमए) के आंकड़ों के अनुसार, सबसे ज्यादा 78 डॉक्टरों की मौत बिहार में हुई है। इसके बाद उत्तर प्रदेश में 37, दिल्ली में 29 और आंध्र प्रदेश में 22 डॉक्टरों की मौत हुई।
आईएमए की ओर से जारी इस लिस्ट में आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. केके अग्रवाल का नाम भी शामिल है, जिनकी संक्रमण से सोमवार को मौत हो गई थी। वैश्विक महामारी की पहली लहर में 748 डॉक्टरों की मौत संक्रमण से हुई थी।

आईएमए के अध्यक्ष डॉ जेए जयालाल ने कहा, "पिछले साल, भारत में कोविड से 748 डॉक्टरों की मौत हुई थी और मौजूदा लहर में इतनी कम अवधि में हमने 270 डॉक्टर खो दिए हैं। वैश्विक महामारी की दूसरी लहर सभी के लिए बेहद घातक साबित हो रही है, खासकर स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए, जो अग्रिम मोर्चे पर तैनात हैं।"
आईएमए की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, कोविड की दूसरी लहर में आंध्र प्रदेश में 22, असम में 3, छत्तीसगढ़ में 3, दिल्ली में 28, गुजरात में 2, गोवा में 1, हरियाणा में 2, जम्मू-कश्मीर में तीन, कर्नाटक में 8, केरल में 2, मध्यप्रदेश में 5, महाराष्ट्र में 14, ओडिसा में 10, पुडुचेरी में 1, तमिलनाडु में 11, तेलंगाना में 19, त्रिपुरा में 2, उत्तराखंड में 2, पश्चिम बंगाल में 14 डॉक्टरों की जान गई है।