फेसबुक यूजर्स के लिए बुरी खबर है और उन्हें सावधान हो जाने की जरूरत है। क्योंकि अब 26.7 करोड़ से ज्यादा फेसबुक यूजर्स की पर्सनल डिटेल्स लीक हो चुकी है। यह सूचना डॉर्क वेब पर एक असुरक्षित डेटाबेस में सामने आई हळै। साइबर सिक्यॉरिटी फर्म Comparitech और रिसर्चर बॉब डियाचेंको के मुताबिक 267,140,436 फेसबुक यूजर्स की आईडी, फोन नंबर और पूरे नाम एक डेटाबेस में मिले हैं। ऐसे में सावधान किया गया है कि इस डेटाबेस में जिन लोगों के नाम है उन्हें स्पैम मैसेज या फिशिंग स्कीम्स से टारगेट किया जा सकता है। 

हालांकि फिलहाल यह साफ नहीं हो पाया है कि फेसबुक यूजर्स की कितनी संवेदनशील सूचनाएं लीक हुई हैं। हालांकि माना जा रहा है​ कि फेसबुक यूजर्स की पर्सनल सूचनाओं को स्क्रैपिंग की अवैध प्रक्रिया के जरिए इकट्ठा किया गया होगा। इस प्रक्रिया में ऑटोमेटेड बॉट्स फेसबुक प्रोफाइल्स से पब्लिक इंफॉर्मेशन कॉपी करते हैं या सीधे फेसबुक के डिवेलपर API से इंफॉर्मेशन चोरी कर लेते हैं। Comparitech वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट के अनुसार डेटाबेस पिछले हफ्ते एक ऑनलाइन हैकर फोरम पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध कराया गया था। इस ऑनलाइन हैकर फोरम का नाता एक क्राइम ग्रुप से है।

इस मामले को लेकर फेसबुक ने कहा है कि वो इस रिपोर्ट की जांच कर रही है जिसमें कहा गया है कि उसके 26.7 करोड़ से ज्यादा यूजर्स के नाम, फोन नंबर और आईडी को लीक करके ऑनलाइन उजागर किया गया है। अब डेटाबेस तक एक्सेस को हटा दिया गया है। फेसबुक यूजर्स के रिकॉर्ड दो हफ्तों तक उपलब्ध थे और इस इंफॉर्मेशन तक पहुंच बनाने के लिए कोई पासवर्ड भी जरूरी नहीं था। गौरतलब हैकि इससे पहले, सितंबर में 40 करोड़ से ज्यादा फेसबुक यूजर्स के फोन नंबर्स उजागर हुए थे।

आपको बता दें कि हाल ही में गूगल क्रोम ब्राउजर का भी डेटा लीक होने की खबर आई है। बताया गया है कि लाखों भारतीय यूजर्स के मोबाइल फोन्स, लैपटॉप और कंप्यूटर्स में मौजूद क्रोम ब्राउजर्स का पासवर्ड लीक हुआ है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360