रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकश अंबानी ने कहा कि उनकी कंपनी 2,500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। यह निवेश रिटेल, पेट्रोलियम, टेलीकॉम, टूरिज्‍म और स्‍पोर्ट्स जैसे तमाम सेक्‍टर्स में होगा और अगले तीन सालों में पूर्वोत्तर के राज्यों में कम से कम 2 लाख लोगों को रोजगार मुहैया कराया जाएगा।


पेट्रोल पंप और टूरिज्म जैसे सेक्टर में 12वीं पास लोगों की भर्तियां होंगी। उनको सैलरी भी 24000 रुपए महीने दी जाएगी। असम में  शुरू हुए वैश्विक निवेशक शिखर सम्‍मेलन में उन्‍होंने कहा कि आज मैं असम के लिए अगले तीन सालों में पांच वादों की घोषणा करते हुए बहुत खुश हूं।

रिलायंस असम के बाजार में अपनी उपस्थिति को और मजबूत बनाने के लिए अतिरिक्‍त 2500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इस निवेश के तहत कंपनी यहां अपने रिटेल आउटलेट्स की संख्‍या को बढ़ाकर 40 करेगी, जो वर्तमान में अभी दो हैं। उन्‍होंने कहा कि यहां पेट्रोल डिपो की संख्‍या को भी मौजूदा 27 से बढ़ाकर 165 किया जाएगा।

अंबानी ने कहा कि हम पूरे असम में सभी 145 तहसील मुख्‍यालय पर अपने नए ऑफि‍स खोलने जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि रिलायंस इंडस्‍ट्रीज पिछले कुछ सालों में 5000 करोड़ रुपए से अधिक के निवेश के साथ असम में सबसे बड़ी निजी क्षेत्र की निवेशक बन गई है।अंबानी ने कहा कि उनकी टेलीकॉम कंपनी जियो के असम में मौजूदा ग्राहकों की संख्‍या 30 लाख है और उनका लक्ष्‍य आने वाली महीनों में इसे कई गुना बढ़ाने का है।

एडवांटेज असम-ग्‍लोबल इनवेस्‍टर्स समिट 2018 का आयोजन करने पर मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल की तारीफ करते हुए अंबानी ने कहा कि असम के विकास की संभावनाएं असीमित हैं। 50 के दशक में यह राज्‍य एक विकसित राज्‍य था जहां प्रति व्‍यक्ति आय राष्‍ट्रीय औसत से भी अधिक थी। अंबानी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने हाल के समय का सबसे बेहतर बजट पेश किया है, जिसमें किसान सहित समाज के सभी वर्गों का ध्‍यान रखा गया है।