अब अमेरिका और चीन में जंग​ छिड़ने के आसार बन रहे हैं। अमेरिका में रूसी राजदूत अनातोली एंतोनोव ने बताया है कि अमेरिका ने 24 रूसी राजनयिकों को वीजा खत्म होने के कारण 3 सितंबर तक अमेरिका छोड़ने को कहा है। न्यूज़ एजेंसी शिन्हुआ ने रूसी राजदूत अनातोली के हवाले से बताया है कि करीब-करीब सभी राजनयिक अमेरिका छोड़ देंगे क्योंकि अमेरिका ने वीजा जारी करने की प्रक्रियाओं को एकाएक कड़ा कर दिया है।

वॉशिंगटन की पत्रिका 'द नेशनल इंटरेस्ट' के साथ बातचीत में अनातोली एंतोनोव ने बताया, 'हमें 24 राजनयिकों की एक सूची मिली है, जिनके 3 सितंबर, 2021 से पहले अमेरिका छोड़ने की उम्मीद है। दिसंबर 2020 में अमेरिकी विदेश विभाग ने रूसी राजनयिकों के लिए असाइनमेंट अवधि पर तीन साल की सीमा स्थापित की। जहां तक ​​​​हमें पता है, यह नियम किसी और देश पर नहीं लागू होता है।'

मामले को लेकर अमेरिका ने भी अपनी बात रखी है। अमेरिकी विदेश  विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने अनातोली की टिप्पणी का जवाब देते हुए कहा कि उनकी स्थिति की विशेषता सटीक नहीं है। यह गलत है। नेड ने आगे बताया, 'रूसियों के लिए वीजा की वैलिडिटी पर तीन साल की सीमा कोई नई बात नहीं है। वीजा की अवधि खत्म होने के बाद लोगों से देश छोड़ने या विस्तार के लिए आवेदन करने की उम्मीद की जाती है।'

अप्रैल से अमेरिका और रूस में ठनी हुई है!
बता दें कि इससे पहले, रूसी विदेश मंत्रालय ने अप्रैल 2021 में अमेरिकी प्रतिबंधों और रूसी राजनयिकों के निष्कासन के जवाब में रूस या तीसरे देशों के नागरिकों को प्रशासनिक और तकनीकी पदों पर भर्ती करने से अमेरिकी राजनयिक मिशनों पर पूरी तरह से बैन लगाने की घोषणा की थी। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन ने 15 अप्रैल को चुनावी हस्तक्षेप और साइबर हमले में रूसी भागीदारी को लेकर 10 रूसी राजनयिकों को निष्कासित कर दिया था।