राजधानी दिल्ली के एक और अस्पताल से दर्दनाक और दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। दिल्ली के रोहिणी इलाके में स्थित जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से कोरोना संक्रमित 20 मरीजों की मौत हो गई है। अस्पताल के एमडी ने जानकारी दी कि ऑक्सीजन की कमी से गोल्डन अस्पताल में 20 मरीजों की मौत हो गई। शुक्रवार शाम को इन मरीजों ने ऑक्सीजन की कमी की वजह से अपना दम तोड़ दिया।

अस्पताल ने इसके लिए ऑक्सीजन की सप्लाई में कमी पर ठीकरा फोड़ा है। अस्पताल प्रबंधन की ओर से मरीजों की मौत पर सफाई देते हुए कहा गया है कि मरीजों के लिए 3600 लीटर ऑक्सीजन की जरूरत थी, लेकिन रात 12 बजे तक सिर्फ 1500 लीटर ही आपूर्ति की गई। इस कारण ही मरीजों की मौत हो गई। जयपुर गोल्डन अस्पताल के मेडिकल सुप्रिंटेंडेंट ने कहा कि अब भी हॉस्पिटल में 200 मरीज भर्ती हैं, जिनके लिए ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं है। न्यूज 18 से उन्होंने कहा कि अब अस्पताल में ऑक्सीजन नहीं है।

इधर, रोहिणी जिले के डीसीपी को जयपुर गोल्डन अस्पताल में मरीजों की मौत के बारे में कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि अस्पताल में ऑक्सीजन कमी से 20 मरीजों की कोई जानकारी अब तक उनके पास नहीं आई है। उन्होंने कहा कि इस बारे में अभी तक अस्पताल की ओर से भी मौत का कोई आंकड़ा शेयर नहीं किया गया है। आपको बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमी से 25 मरीजों की मौत का मामला सामने आया था। आज भी राजधानी के कई अस्पतालों ने ऑक्सीजन खत्म होने की जानकारी दे दी है।