बिहार के रोहतास जिले में रविवार रात चार मुखिया और दो मुखिया के पति सहित 18 लोगों को शराब का सेवन करने के दौरान राज्य में शराबबंदी कानून की अवहेलना के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में मेजबानी कर रहे एक अन्य व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है। घटनास्थल से पुलिस ने हथियार भी बरामद किए हैं।

रोहतास के पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने सोमवार को आईएएनएस को बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि दरीगांव में सरकारी कार्यालय पंचायत भवन से सटे एक घर में शराब पार्टी आयोजित की गई है, जिसमें कई लोग शामिल हैं। इसी सूचना के आधर पर पुलिस की एक टीम बनाकर उक्त घर में छापेमारी की गई, जहां से शराब का सेवन करने के दौरान राज्य में शराबबंदी कानून की अवहेलना के आरोप में 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार लोगों में चार मुखिया, दो महिला मुखियाओं के पति और एक प्राथमिक कृषि ऋण सहयोग समिति (पैक्स) के पूर्व अध्यक्ष शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि घर के मालिक को भी शराब की पार्टी आयोजित करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि छापेमारी के दौरान वहां से 125 लीटर शराब, दो पिस्तौल तथा 23 कारतूस बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों में दरीगांव पंचायत के मुखिया राजू पासवान, आलमपुर के मुखिया विजय पासवान, नौहना पंचायत के मुखिया मुन्ना सिंह, उगहनी के मुखिया राजवंश पासवान, रामपुर पंचायत की मुखिया के पति धर्मेंद्र सिंह, हट्टा पंचायत की मुखिया के पति पारस पासवान और सदोखर पैक्स के पूर्व अध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा कि मकान मालिक रवींद्र सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। भारती ने बताया कि गिरफ्तार व्यक्तियों की जांच कराई गई, जिसमें घर के मालिक को छोडकऱ सभी के शराब पीने की पुष्टि हुई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। उल्लेखनीय है कि बिहार में शराब सेवन और बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध है।