केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के महानिदेशक कुलदीप सिंह ने कहा कि मार्च 2021 से अब तक जम्मू-कश्मीर में 175 आतंकवादी मारे गए हैं, जबकि 183 को गिरफ्तार किया गया है। सीआरपीएफ ने इसी अवधि के दौरान वामपंथी उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) से प्रभावित राज्यों में विभिन्न अभियानों में 19 उग्रवादियों को मार गिराया और 699 को गिरफ्तार किया। दो आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर में आत्मसमर्पण किया है, जबकि 598 माओवादी कैडर या समर्थकों ने छत्तीसगढ़ में और पूर्वोत्तर क्षेत्र में 287 आत्मसमर्पण किया है।

ये भी पढ़ेंः सावधानः जल्द ही आने वाला है खतरनाक तूफान, अलर्ट मोड पर मोदी सरकार, जानें पूरा मामला


सिंह ने यह भी कहा कि इस अवधि के दौरान, जम्मू-कश्मीर में 253, एलडब्ल्यूई क्षेत्र में 164 और पूर्वोत्तर क्षेत्र में 128 हथियार बरामद किए गए, जबकि जम्मू-कश्मीर में 96 किलोग्राम से अधिक विस्फोटक, एलडब्ल्यूई क्षेत्रों में 1,493 किलोग्राम और पूर्वोत्तर क्षेत्र में 26 किलोग्राम विस्फोटक बरामद किए गए। सीआरपीएफ ने जम्मू-कश्मीर में 23 इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी), एलडब्ल्यूई क्षेत्रों में 398 और पूर्वोत्तर राज्यों में चार बरामद किए हैं, जबकि जम्मू-कश्मीर में 232 ग्रेनेड, एलडब्ल्यूई क्षेत्रों में 12 और पूर्वोत्तर राज्यों में 27 ग्रेनेड बरामद किए गए हैं।

ये भी पढ़ेंः खूनी गलवान संघर्ष के बाद पहली बार ऐसा बड़ा काम करने जा रहा है चीन


हाल ही में कश्मीर घाटी में छुट्टी पर घर पर रहे सीआरपीएफ जवानों की हत्या का जिक्र करते हुए सिंह ने कहा कि इस साल यह पहली ऐसी घटना है और सुरक्षा एजेंसियों ने तुरंत कार्रवाई की और अपराधी को कम से कम समय में गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने यह भी कहा कि पांच राज्यों में हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों के दौरान कुल 41 वीआईपी को वीवीआईपी सुरक्षा कवर प्रदान किया गया था, जबकि चुनाव के बाद 27 सुरक्षा प्राप्त लोगों की सुरक्षा वापस ले ली गई है। सिंह ने यह भी कहा कि बल शनिवार को जम्मू के एमए स्टेडियम में अपना 83वां स्थापना दिवस परेड आयोजित करेगा - पहली बार जब यह दिल्ली-एनसीआर के बाहर मनाया जा रहा है।