दिल्ली के रोहिणी जिले के मोहल्ला क्लीनिक में 12 वर्षीय बच्ची के साथ हुई छेड़खानी की घटना को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Health Minister Satyendar Jain) के आवास पर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा ने कहा है कि केजरीवाल सरकार (Kejriwal government) में दिल्ली की महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस कर रहीं हैं। आलम यह है कि अब मोहल्ला क्लीनिक (Mohalla clinics)  में भी छेड़खानी होने लगी है।

भाजपा के प्रदेश महामंत्री हर्ष मल्होत्रा (BJP State General Secretary Harsh Malhotra ) ने कहा कि यह बेहद ही शर्मनाक है कि जो पार्टी महिला सुरक्षा के नाम पर दिल्ली की सत्ता पर काबिज हुई, वह आज महिलाओं को लेकर इतनी असंवेदनशील है। 

आज केजरीवाल सरकार (Kejriwal government की ओर से बनाए गए मोहल्ला क्लीनिक में भय का माहौल है। महिलाएं और बच्चियां जाने से डर रहीं हैं। लेकिन, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राजनीतिक पर्यटन में व्यवस्त हैं। उन्हें दिल्ली की महिलाओं से कोई सरोकार नहीं है।

प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन जिंदल ने कहा कि दिल्ली की महिलाओं की पहले केजरीवाल सरकार ने पेंशन बंद कर दी। युवाओं को रोजगार नहीं दिया। बेरोजगारों को पांच हजार रुपये देने का केजरीवाल सरकार का वायदा, सिर्फ विज्ञापनों तक सीमित रहा। महिला मोर्चा अध्यक्ष योगिता सिंह ने कहा कि दिल्ली में तीन दिन पहले हुई घटना पर अब तक केजरीवाल सरकार सो रही है। लेकिन, पंजाब में महिलाओं के संबंध में चुनावी घोषणा करना नहीं भूल रहे हैं।

कार्यक्रम के संयोजक जयवीर राणा ने कहा कि आज दिल्ली की महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस कर रहीं हैं। दिल्ली सरकार महिला सुरक्षा को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करती है, लेकिन हकीकत यही है कि शाम होते ही सड़कें पूरी तरह से शराबियों का जमावड़ा बन जाती हैं।