बिहार में सारण, जमुई, भोजपुर और पूर्वी चंपारण जिले में आज वज्रपात में 12 लोगों की मौत हो गयी तथा सात अन्य झुलस गये। छपरा से यहां प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, सारण जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के खलपुरा पंचायत के मकदूमगंज गांव में वज्रपात की घटना में नौ लोगों की मौत हो गयी तथा सात अन्य घायल हो गये।


जिला जनसंपर्क पदाधिकारी ज्ञानेश्वर प्रकाश ने बताया कि मकदूमगंज गांव के कुछ लोग परवल के खेत में गये हुए थे। इसी दौरान तेज बारिश के साथ हुए वज्रपात में छह लोगों की मौत हो गयी जबकि दस अन्य घायल हो गये। घायलों को छपरा सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान तीन अन्य की भी मौत हो गयी।


मृतकों की पहचान अरङ्क्षवद कुमार ङ्क्षसह (50), लौ बहादुर ङ्क्षसह (62), सुरेन्द ङ्क्षसह (50), जीतेन्द्र राय (13), रवीन्द्र राय (50), सत्यदेव राय (15), नीतीश कुमार (12), रामनाथ राय (45) और चंद्रदेव राय (45) के रूप में की गयी है। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिये भेज दिया गया है।


जमुई से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, जिले के खैरा थाना क्षेत्र के बरियारपुर गांव निवासी सतीश ठाकुर (15) खेत में काम कर रहा था तभी हुए वज्रपात से झुलसकर उसकी मौत हो गयी। वहीं, जिले के आदर्श थाना क्षेत्र के अभयपुर गांव निवासी टारजन मांझी (12) मवेशी चरा रहा था तभी तेज बारिश के साथ वज्रपात से उसकी झुलसकर मौत हो गयी।


आरा से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, भोजपुर जिले के बड़हरा थाना क्षेत्र के बखोरापुर गांव में आज वज्रपात से एक युवती की मौत हो गयी। बखोरापुर गांव निवासी पुष्पा कुमारी (18) अपने खेत में काम कर रही थी तभी वज्रपात हुआ। इस घटना में युवती की झुलस कर मौत हो गयी। शव को पोस्टमॉर्टम के लिये आरा सदर अस्पताल आरा भेज दिया गया है।


मोतिहारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार, पूर्वी चंपारण जिले के पहाड़पुर थाना क्षेत्र के नवाडीह गांव के अहीर टोला में आज सुबह हो रही बारिश के बीच वज्रपात की घटना में संतोष यादव के दो घर जलकर नष्ट हो गये। घटना के समय संतोष यादव अपनी पत्नी के इलाज के लिये पश्चिम चंपारण के नौतन गया था। घर मे कोई नहीं था, जिस कारण से बड़ा हादसा होने से टल गया। घटना की जानकारी के बाद दमकल की टीम ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया।