चंडीगढ़. सीमा शुल्क अधिकारियों ने अटारी में एकीकृत जांच चौकी (आईसीपी) से अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब 700 करोड़ रुपये की 102 किलोग्राम हेरोइन बरामद की है, जो दिल्ली के एक आयातक द्वारा अफगानिस्तान से आयातित नद्यपान (मुलेठी) की खेप के साथ पैक की गई थी. 

यह भी पढ़े : VASTU TIPS: घर में आईना लगवाते समय उसकी दिशा का विशेष ख्याल रखें, इस दिशा में लगाने से बचें


सीमा शुल्क विभाग के अनुसार, मुलेठी की खेप की एक्स-रे स्कैनिंग के बाद दवाओं की तस्करी का पता चला. लकड़ी के लट्ठों की खेप में कुछ अनियमित धब्बे होने का संदेह होने के बाद सीमा शुल्क कर्मचारियों ने थैलों को खोला और पाया कि कुछ थैलों में छोटे बेलनाकार लकड़ी के लट्ठे थे जो मुलेठी नहीं थे. 

सीमा शुल्क विभाग ने कहा कि ऐसे लकड़ी के लट्ठों का कुल वजन 475 किलोग्राम था, जिसमें से अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगभग 700 करोड़ रुपये मूल्य की 102 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई. हेरोइन की यह खेप अफगानिस्तान से पाकिस्तान के रास्ते भारत लाई गई थी. 

यह भी पढ़े : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने छोड़ा मुख्यमंत्री आवास, नए घर में हुए शिफ्ट, कयासों के दौर शुरू


गौरतलब है कि पंजाब में मान सरकार ने नशे को रोकने के लिए बड़ा अभियान छेड़ रखा है इसके बावजूद आए दिन कई युवकों की नशे के ओवरडोज से मौत हो रही है. विशेष रूप से, भारत आईसीपी, अटारी में अफगानिस्तान से सूखे मेवे, ताजे फल और जड़ी-बूटियों का आयात करता है. इससे पहले जून 2019 में सीमा शुल्क अधिकारियों ने अफगानिस्तान के आयात से आईसीपी अटारी से भारत में सबसे बड़ी बरामदगी में से एक 532.6 किलोग्राम हेरोइन को जब्त किया था. 

यह भी पढ़े : Today's Horoscope 25 April: इन राशि वालों की आर्थिक स्थिति में आएगा सुधार , कन्या राशि वालों के लिए आज दिन अच्छा


सूत्रों ने बताया कि दिल्ली के एक आयातक ने अफगानिस्तान स्थित व्यापारी ए नजीर कंपनी मजार-ए-शरीफ से कुल 340 बैग मुलेठी का आयात किया था, जिसे किबर स्थित रसद और माल परिवहन कंपनी द्वारा आईसीपी, अटारी में लाया गया था. हेरोइन के साथ मुलेठी की खेप 22 अप्रैल को आईसीपी अटारी में एक कार्गो टर्मिनल में उतारी गई थी.