मणिपुर में शुक्रवार को हुए एक बम धमाके में 10 लोग घायल हो गए। सभी घायलों को रिम्स में भर्ती कराया गया है। घायलों में से एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। बम धमाका इंफाल वेस्ट के तेरा लुकराम लईराक इलाके में हुआ। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन.बीरेन सिंह ने बम धमाके की कड़ी निंदा करते हुए इसे आतंकी कृत्य करार दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा, तेरा लुकराम लेईराक में हुए बम धमाके की कड़ी निंदा करता हूं। यह कुछ और नहीं बल्कि आतंकी कृत्य है। जानकारी के मुताबिक ब्लास्ट उस वक्त हुआ जब लुकराम लईराक यूथ क्लब(एलएलवाईसी) ग्राउंड में मेले की तैयारियां चल रही थी।
पुलिस के मुताबिक अज्ञात बदमाशों ने शाम 7.15 बजे के करीब एलएलवाईसी के ठीक सामने खोली गई एक स्टॉल के पास हथगोला फेंका। पुलिस ने ब्लास्ट के बाद घटनास्थल से ग्रेनेड लीवर बरामद किया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बम धमाके में करीब 10 लोग घायल हो गए। घायलों में से एक लड़के की हालत गंभीर है। उसकी उम्र 10 साल है। मेले का आयोजन नॉर्थ ईस्ट मेला एस
 ोसिएशन ने एलएलवाईसी की अनुमति से किया है। मेला 15 अक्टूबर से शुरु होगा जो 25 अक्टूबर तक चलेगा। बम धमाके की जानकारी मिलते ही आईजीपी जोन-1 क्ले खोंगसई और इंफाल वेस्ट के एसपी थेमथिंग एन. के नेतृत्व में पुलिस की टीमें घटनास्थल पर पहुंची और तलाशी अभियान शुरु किया। घायलों की पहचान थियाम आनंद(24), एन बेदाजित(28), थोउनाओजाम इबोयाइमा(58),थियाम बसंता(45), अहानथेम थोई(36), लिशमा इबोम्चा(48), एन.जामहिल(10), तोफार अली(24) और सोउबाम सुंदर(15) के रूप में हुई है। इनमें से थोई लांगोल गेम्स गांव का रहने वाला है
जबकि लिशाम इबोम्चा और सोउबाम सुंदर ताक्येल खोंगबाल और मोइरांग हानुबा लेईराक के रहने वाला हैं। तोफार अली असम का रहने वाला है लेकिन फिलहाल लुकराम लईराक में रह रहा है। तोफार अली को छोड़कर अन्य सभी लुकराम लेईकई के रहने वाले हैं। एन.जामहिल की हालत गंभीर बताई जा रही है।