मरे हुए आंतकियों की याद में क्रिकेट मैच रखने के जुर्म में 10 युवकों को गिरफ्तार किया गया है। यह वाकया कश्मीर के शोपियां जिले का है जहां 10 स्थानीय युवकों पर यूएपीए (गैर-कानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम, 1967) के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। इन युवकों ने मारे गए आतंकियों की याद में क्रिकेट मैच का आयोजन किया था. जिसके बाद गुरुवार को स्थानीय पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

खबर है कि इस क्रिकेट मैच का आयोजन साल 2019 में मारे गए आतंकी सैयद रूबन के भाई ने किया था। इस मामले में आयोजक के अलावा नौ अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।

इन 10 युवकों की गिरफ्तारी को लेकर कहा गया है कि आतंकियों को इस तरह से ग्लैमराइज करना अपराध है। यह मामला यूएपीए के तहत आता है। सूत्रों के मुताबिक मैच के आयोजक ने लोगों के बीच टीशर्ट बांटी थी, जिसपर मारे गए आतंकी का नाम छपा हुआ था।

आतंकी सैयद रूबन के भाई ने एक लोकल न्यूज सर्विस से बात करते हुए कहा था कि मैंने लोगों को टीशर्ट बांटे हैं क्योंकि क्रिकेट मेरे भाई का फेवरिट गेम था। वो काफी टेलेंटेड क्रिकेट खिलाड़ी था। उनके टेलेंट और किक्रेट के प्रति दीवानगी को सबलोग सराहते थे।

रूबन के भाई ने यह भी कहा था कि उसने यह टीशर्ट नजीनपोरा, पिंजूरा, शोपियान, काकापोरा पुलवामा और दक्षिण कश्मीर के निवासियों को भी बांटा था। वह इन सभी इलाकों में क्रिकेट को बढ़ावा देना चाहता है।