दुनिया के सबसे मशहूर रॉक बैंड्स में से एक 'निर्वाना बैंड' के खिलाफ 30 साल के एक शख्स ने केस दर्ज कराया है। इसमें सबसे खास ये है कि यह मुकदमा किसी और ने नहीं बल्कि उस शख्स ने दायर किया है जो 30 साल पहले निर्वाना बैंड के एक चर्चित एल्बम कवर पर फीचर हुआ था। उस समय यह शख्स चार महीने का था और निर्वाना बैंड ने अपने 'नेवरमाइंड' नाम के एल्बम के कवर पर उसकी तस्वीर लगाई थी। तस्वीर में बच्‍चे को न्‍यूड दिखाया गया है। बैंड पर मुकदमा दायर करने की वजह भी बड़ी ही दिलचस्प है।

दरअसल, इस शख्स का नाम स्पेंसर एल्डन है। स्पेंसर एल्डन जब महज चार महीने के थे तब उनकी एक न्यूड तस्वीर बैंड के एल्बम कवर के रूप में लगाई गई थी। स्पेंसर एल्डन ने अब इस कवर को चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी और बच्‍चे के साथ यौन शोषण का मामला बताते हुए बैंड से हर्जाना मांगा है। इतना ही नहीं स्पेंसर ने बैंड के सभी जीवित सदस्‍यों के खिलाफ मुकदमा दायर किया है और मुआवजा मांगा है। फिलहाल इस मामले के सामने आने के बाद निर्वाना बैंड और उस बच्चे की तस्वीर फिर से वायरल हो गई है।

निर्वाना बैंड ने तीस साल पहले अपने जिस एल्बम कवर पर स्पेंसर एल्डन की तस्वीर लगाई थी, उसमें दिख रहा है कि बच्चे के रूप में स्पेंसर एल्डन एक स्वीमिंग पूल के अंदर तैरते हुए नजर आ रहे हैं। वे डॉलर के एक नोट को पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं और इस दौरान उनके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं है। यह कवर बहुत लोकप्रिय हुआ था, लोगों ने इसे बहुत पसंद किया था। नेवरमाइंड नाम का यह एल्बम अब तक के सबसे ज्‍यादा बिकने वाले एल्‍बम में से एक है। इसने रिकॉर्ड कायम कर दिया था।

स्पेंसर एल्डन ने निर्वाना पर सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट ऑफ कैलिफोर्निया कोर्ट में मुकदमा दायर किया है। उन्होंने बैंड से 150,00 डॉलर हर्जाने की मांग की है। मुकदमे में बैंड के लोगों के अलावा वे कंपनियां भी शामिल हैं जो पिछले तीन दशकों में एल्बम के रिलीज या वितरण में शामिल थीं। मुकदमे में स्पेंसर एल्डन का तर्क है कि एक बच्चे के रूप में उनका यौन शोषण किया गया था। एल्डन के वकील ने मीडिया से कहा कि तस्वीर में डॉलर को शामिल करने से नग्न शिशु एक यौनकर्मी के रूप में दिखाई दे रहा है। मुकदमे में यह भी दावा किया गया है कि निर्वाणा बैंड ने जानबूझकर स्पेंसर की तस्वीर को अपने फायदे के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रमोट किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्पेंसर एल्डन इ