चीन के साथ जारी सीमा विवाद पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार हमलावर हैं। राहुल की ओर से वीडियो ब्लॉग के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा गया। अब भारतीय जनता पार्टी की ओर से राहुल को जवाब देने का मोर्चा खुद पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने संभाला है। जेपी नड्डा की ओर से सोमवार को कई ट्वीट कर राहुल को घेरा गया।

बीजेपी अध्यक्ष ने लिखा कि हमने एक और बार राहुल गांधी के रिलॉन्च की फेल कोशिश देखी। राहुल गांधी कमजोर फैक्ट्स के साथ अपनी बात कर रहे थे। उनकी ओर से विदेश नीति और सुरक्षा के मामलों का राजनीतिकरण किया जा रहा है। ये दिखाता है कि एक वंश किस तरह 1962 के पाप को धोना चाहता है और देश को कमजोर करना चाहते हैं।

जेपी नड्डा ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि 1950 से ही चीन ने एक वंश में रणनीतिक रूप से निवेश किया। आपको याद है 1961 में UNSC की सीट गंवा देना, यूपीए के काल में जमीन गंवा देना और 2008 में फंड साइन करना या राजीव गांधी फाउंडेशन को फंड दिलवाना हो।