नागालैंड दौरे के दूसरे दिन उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने शुक्रवार को यहां द्वितीय युद्ध के ऐतिहासिक युद्ध-स्मारक का दौरा किया और सर्वोच्च बलिदान देने वाले वीर जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उपराष्ट्रपति बनने के बाद धनखड़ की यह पहली नगालैंड यात्रा है।

यह भी पढ़ें- जापान में निर्दिष्ट कुशल श्रमिकों के रूप में काम करने के लिए 9 नर्सों का चयन किया गया

धनखड़ ने युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद डायरी में लिखा कि द्वितीय विश्व युद्ध में यहां लड़ते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर सैनिकों को विनम्र श्रद्धांजलि। यह स्मारक असंख्य बलिदानों की याद दिलाता है। उनकी बहादुरी और निस्वार्थता का कार्य पीढ़ियों को प्रेरित करता रहेगा। 

यह भी पढ़ें- मुस्लिम के नेता अजमल ​का हिदुओं पर विवादित बयान, 'नाजायज पत्नियां रखते हैं, 40 साल बाद नहीं कर सकते बच्चे पैदा

उल्लेखनीय है कि गुरुवार को उन्होंने नागालैंड की राजधानी कोहिमा से करीब 12 किलोमीटर दूर किसामा में 10 दिवसीय 23वें हॉर्नबिल महोत्सव का उद्घाटन किया था। नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफियो रियो ने ट्विटर पर लिखा कि भारत के माननीय उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, नगालैंड आने के लिए धन्यवाद। हॉर्नबिल महोत्सव के उद्घाटन पर आपकी उपस्थिति ने इस अवसर को और भी खास बना दिया। हमें उम्मीद है कि आप फिर हमसे मिलने आएंगे।