उत्तर भारत के लोग इन दिनों तेज गर्मी से जूझ रहे हैं। देश के कई हिस्सों में तापमान 40 डिग्री से ज्यादा दर्ज किए जाने के बाद भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि गुरुवार, 15 अप्रैल को लू की स्थिति नहीं होगी। IMD ने कहा कि गुजरात और हरियाणा के छिटपुट हिस्सों में 14 अप्रैल को लू की स्थिति देखी गई थी। मौसम विभाग ने कहा कि उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम बंगाल के कुछ स्थानों समेत अन्य जगहों पर 40 डिग्री से ज्यादा तापमान दर्ज किया गया है।

IMD ने कहा, ‘पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, पश्चिम बंगाल और पश्चिमी राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार, गुजरात में कुछ स्थानों और छत्तीसगढ़, विदर्भ, ओडिशा, झारखंड और मराठवाड़ा में छिटपुट जगहों पर तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा दर्ज किया गया।’ देश में सबसे ज्यादा तापमान नौगांग (पूर्वी उत्तर प्रदेश) में 42।8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस चिलचिलाती गर्मी के बीच मौसम को लेकर थोड़ी राहत देने वाली भविष्यवाणी भी की गई है।

मौसम विभाग ने अपने एक हफ्ते के पूर्वानुमान में बताया कि दिल्ली में आज गुरुवार सुबह न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस बना रहा, जो औसत तापमान से एक डिग्री ज्यादा है, वहीं अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आईएमडी के मुताबिक, 16 अप्रैल को दिल्ली में आंधी और बारिश की संभावना है, जिससे शहर के लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है। 17 अप्रैल को भी आसमान में बादल छाए रहेंगे, साथ में हल्की बूंदाबांदी की भी संभावना है, वहीं 18 और 19 अप्रैल को दिन में तेज हवाएं चल सकती हैं।

IMD ने बताया कि 15 से 20 अप्रैल के बीच अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में गरज के साथ हल्की बारिश और तेज हवाएं चलने के आसार हैं, वहीं 17 से 20 अप्रैल के बीच अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में भारी बारिश की भी संभावना जताई गई है। इसी के साथ आने वाले 2 दिनों में प्रायद्वीपीय भारत में गरज और तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है। IMD का कहना है कि अगले दो दिनों में केरल, तमिलनाडु, पुडुचेरी, दक्षिण कर्नाटक और कराईकाल में भी बारिश के आसार दिख रहे हैं।