नागालैंड में दीमापुर के वोखा शहर में पुलिसकर्मियों ने शुक्रवार को ड्यूटी पर तैनात एक डॉक्टर के साथ मारपीट की। इंडियन डेंटल एसोसिएशन नागालैंड स्टेट ब्रांच (आईडीएएनएसबी) के अध्यक्ष डॉ. काकेटो येप्थोमी ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि पुलिसकर्मियों से अपील करने के अलावा मेडिकल पेशेवर के रूप में अपनी पहचान का सबूत पेश करने के बावजूद भी पीड़ित पर ‘क्रूरतापूर्वक हमला’ किया गया।


आईडीएएनएसबी ने 17 अप्रैल को आवश्यक वस्तु खरीदने गये डॉ मोंगशीथुंग मुर्री पर पुलिसकर्मियों द्वारा हुए कथित हमले की निंदा की है और इसे ‘संगीन अपराध’ के रूप में वर्णित किया है। आईडीएएनएसबी ने दावा किया कि इस हमले के दौरान पीडि़त को गंभीर चोटें आयी हैं और वह गहरे अवसाद में चले गये हैं।


आईडीएएनएसबी ने जिम्मेदार अधिकारियों से जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग की है अन्यथा संगठन द्वारा चिकित्सा सेवाओं का बहिष्कार किया जाएगा। इससे पहले दीमापुर जिले में तीन अप्रैल को विशेष कार्य बल के पुलिसकर्मियों ने ड्यूटी से घर लौट रहे डॉक्टर नोजोल सेजो के साथ मारपीट की थी। एसटीएफ के तीन सदस्यों ने 13 अप्रैल को कोहिमा में एक ‘समझौता बैठक’ के दौरान डॉक्टर से माफी मांगी थी।