पूर्वोत्तर राज्य नागालैंड (northeastern state nagaland) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के वैक्सीनेशन अभियान (vaccination campaign) को सबसे बड़ा झटका दिया दिया है। यहां देश में सबसे कम पहली डोज लगाने वाले जिलों में सबसे ऊपर नागालैंड (Nagaland) का किफिरे जिला है, जहां सिर्फ 17 फीसदी लोगों को ही कोरोना वैक्सीन (corona vaccine) लगाई गई है. नागालैंड में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 17 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 31,859 हो गयी है और राहत की बात यह है कि इस अवधि में किसी की मौत नहीं हुई है राज्य में मृतकों की संख्या 685 पर ही बरकरार है।

बता दें कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) वैक्सीनेशन की कम गति वाले जिलों के जिलाधिकारियों से कहा कि अपने जिलों में एक-एक गांव, एक-एक कस्बे के लिए अगर अलग-अलग रणनीति बनानी हो तो वो भी बनाइए. झारखंड, मणिपुर, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, महाराष्ट्र और मेघालय (Jharkhand, Manipur, Nagaland, Arunachal Pradesh, Maharashtra and Meghalaya) सहित अन्य राज्यों के 40 से ज्यादा जिले ऐसे हैं, जहां 50 फीसदी से कम पहली डोज लगी है और दूसरी डोज की रफ्तार भी धीमी है. इस समीक्षा बैठक के दौरान इन राज्यों के मुख्यमंत्री भी मौजूद रहे.

अब तक देश में 78 प्रतिशत आबादी (73.63 करोड़ लोग) को कोविड वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है, जबकि 35 फीसदी (33.66 करोड़) को दूसरी डोज दी गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को वैक्सीन की अब तक करीब 114 करोड़ से अधिक डोज उपलब्ध कराई जा चुकी है. वहीं राज्यों के पास अब भी 14.68 करोड़ से अधिक डोज उपलब्ध हैं, जिनका अभी इस्तेमाल नहीं किया गया है.