नागालैंड सरकार ने तमिलनाडु से चेन्नई और वेल्लोर में नागालैंड हाउस बनाने के लिए जमीन मांगी है। नागालैंड के लोक निर्माण मंत्री तोंगपांग ओजुकुम ने मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन ने यहां सचिवालय में जाकर अनुरोध किया।

सूत्रों के अनुसार ये अनुरोध तमिलनाडु में रहने वाले या फिर यहां आने वाले नागालैंड के लोगों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए किया गया है। एक अधिकारी ने कहा कि चैन्नई में नागालैंड के कई स्टूडेंट्स पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं कई लोग व्यापसायिक प्रतिष्ठानों में काम कर रहे हैं। इतना ही नहीं कई लोगों को इलाज के लिए क्रिश्चिन मेडिकल कॉलेज अस्पताल आना पड़ता है। बता दें कि असम और ओडिशा जैसे राज्यों और पुडुचेरी जैसे केंद्र शासित प्रदेशों के चेन्नई में सरकारी गेस्टहाउस हैं।

बता दें कि स्टालिस से मुलाकात के वक्त मंत्री ओजुकुम के साथ नागालैंड के गृह विभाग में विशेष सचिव एस.आर. सरवनन, नागालैंड में तैनात एक आईएएस अधिकारी के. थवसीलन और वरिष्ठ अधिकारी साथ थे। आपको बता दें कि इससे पहले राज्य में खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो ने नागालैंड ओलंपिक संघ के 6 मंजिला कार्यालय का उद्घाटन किया था। रियो ने जानकारी दी थी कि 6 मंजिला इमारत NOA से संबद्ध 22 खेल संघों की मेजबानी करेगी। इसके अलावा, एक सम्मेलन कक्ष, एक पुस्तकालय और एक जिम होगा।