भारत के पूर्वोत्तर राज्य नगालैंड में फायरिंग (Firing in nagaland) की हैरतअंगेज घटना हुई है और बवाल मच गया है। इस फायरिंग में अबत क 13 लोगों की जान जाने की खबर है। घटना में घायल होने वाले लोगों में मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है। फायरिंग की घटना के बाद आई तस्वीरों में गाड़ियों को जलते हुए देखा गया है। यह घटना के नगालैंड के मोन जिले के ओटिंग में हुई है। रिपोर्ट के अनुसार घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने सुरक्षाबलों की गाड़ियों में आग लगा दी।

इस घटना के बाद नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफियो रियो ने लोगों से शांति की अपील की है। इस मामले की जांच के लिए उन्होंने SIT का गठन कर दिया है। सीएम ने ट्वीट कर कहा कि मोन के ओटिंग में में नागरिकों की हत्या की दुर्भाग्यपूर्ण घटना और अत्यंत निंदनीय है। मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता है। इस घटना की जांच उच्च स्तरीय एसआईटी करेगी और देश के कानून के अनुसार न्याय दिलाएगी, मैं सभी वर्गों से शांति की अपील करता हूं।

इस घटना को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है कि नगालैंड के ओटिंग की दुर्भाग्यपूर्ण घटना से काफी व्यथित हूं।  जिन लोगों ने अपनी जान गंवाई है, उनके परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार द्वारा गठित एक उच्च स्तरीय एसआईटी इस घटना की गहन जांच करेगी ताकि शोक संतप्त परिवारों को न्याय सुनिश्चित किया जा सके।

खबर है कि यह घटना मोन जिले के ओटिंग के तिरु गांव में हुई है। हमले में मारे गए लोग एक पिकअप मिनी ट्रक से वापस लौट रहे थे। स्थानीय सूत्रों के अनुसार यह घटना कल शाम 4 बजे की है। जब काफी देर के बाद भी ये लोग घर वापस नहीं लौटे तो गांव के वॉलंटियर्स इन्हें खोजने के लिए निकले। तभी इन्हें इनकी डेड बॉडीज मिली। इस घटना के बाद इलाके में तनाव फैल गया। गुस्साए ग्रामीणों ने सुरक्षाबलों की गाड़ियों में मांग लगा दी।