नागालैंड के पूर्व मंत्री किहोतो होलोहोन (Kihoto Holohon, former minister of Nagaland) का वृद्धावस्था संबंधी रोगों के कारण शुक्रवार सुबह करीब छह बजे एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। उनके परिवार के एक सदस्य ने यह जानकारी दी। वह 91 वर्ष के थे। सात बार विधायक (7 times MLA) रहे होलोहोन के परिवार में पत्नी, तीन बेटियां तथा एक बेटा है।

उन्होंने पहली बार 1977 में युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDP) के उम्मीदवार के तौर पर विधानसभा चुनाव (assembly election) लड़ा था। उन्हें जुन्हेबोतो जिले की अगुनातो सीट से जीत मिली थी। इसके बाद वह 1982 से 1987 के बीच इसी सीट से विधायक चुने गए। बाद के वर्षों में उन्होंने कई पार्टियों का दामन थामा। उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर भी चुनाव लड़ा।

होलोहोन (Holohon) ने 2013 में सक्रिय राजनीति से संन्यास ले लिया था। उन्होंने राज्य मंत्रिमंडल में उत्पाद शुल्क, और खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति सहित कई विभागों को संभाला।

होलोहोन (Holohon) ने नगा आंदोलन (Naga movement) में भी भाग लिया था। 20 अक्टूबर 1962 को उन्होंने और उनके साथियों ने हथियार डाल दिये थे। उन्हें नगालैंड सशस्त्र पुलिस में निरीक्षक नियुक्त किया गया, लेकिन 1966 में उन्होंने इस्तीफा दे दिया। इसके बाद उन्होंने कई तरीकों से लोगों की सेवा की।

नगालैंड के राज्यपाल जगदीश मुखी (Nagaland Governor Jagdish Mukhi), मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो (Chief Minister Neiphiu Rio) और उपमुख्यमंत्री वाई पट्टन (Deputy Chief Minister Y Pattan) ने होलोहोन (Holohon) के निधन पर शोक व्यक्त किया है। रियो ने ट्वीट किया, ''लोगों की सेवा में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। उनकी आत्मा को शांति मिले।