कागड़ा/कोहिमा। नगरोटा सूरियां के साथ लगती पंचायत बरियाल में 42 वर्षीय सैनिक विनोद कुमार की रविवार को ड्यूटी के दौरान हृदयगति रुकने से मौत हो गई। सैनिक की पार्थिव देह जैसे ही मंगलवार को गांव में पहुंचा, तो माहौल गमगीन हो गया।

हिमाचल के सैनिक का नागालैंड में ड्यूटी के दौरान हृदय गति रुकने से निधन

विनोद कुमार का अंतिम संस्कार वरियाल के श्मशान घाट में पूरे सैनिक सम्मान के साथ किया गया।

वह नागालैंड में असम राइफल में ड्यूटी दे रहा था। इस मौके पर असम राइफल से राजेंद्र कुमार धर्मशाला से मिन्हास सहित आए हुए सैनिकों द्वारा उन्हें सलामी दी गई। मृतक अपने पीछे गर्भवती पत्नी चेतना ठाकुर, माता सत्या देवी व गोद ली बेटी को छोड़ गए हैं।

जानकारी के अनुसार मृतक विनोद कुमार की शादी 14 साल पहले हुई थी और 14 साल बाद उनकी पत्नी गर्भवती थीं, जिसकी डॉक्टरों ने 11 दिसंबर प्रसव की तारीख रखी है। विनोद कुमार डेढ़ महीना पहले ही छुट्टी काट कर गया था और अपनी गर्भवती पत्नी को फोन पर बताया कि वह 10 दिसंबर को दोबारा घर छुट्टी आ रहा है, लेकिन उन्हें क्या पता था कि बच्चे के जन्म से पहले ही उनकी पार्थिव देह घर पहुंच जाएगी।