कोहिमा: ईस्टर्न नगालैंड पीपुल्स ऑर्गनाइजेशन (ईएनपीओ) के नेता 3 दिसंबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। ईएनपीओ नेता 3 दिसंबर को अपनी बैठक के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ एक अलग फ्रंटियर नागालैंड राज्य बनाने की अपनी मांग पर चर्चा करेंगे।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह नई दिल्ली में नागालैंड के ENPO के नेताओं से मुलाकात करेंगे। ईएनपीओ के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी।

यह भी पढ़े : आज का राशिफल : इन राशियों को आज कुछ अनहोनी की आशंका रहेगी, लेन-देन में जल्दबाजी न करें


नागालैंड के कुल 16 जिलों में से छह में ईएनपीओ की उपस्थिति है।

विशेष रूप से ईएनपीओ ने अगले साल नागालैंड में विधानसभा चुनावों का बहिष्कार करने की धमकी दी है अगर उनकी अलग फ्रंटियर नागालैंड राज्य की मांग पूरी नहीं हुई। ईएनपीओ के प्रवक्ता ने कहा, अगर केंद्र हमारी अपील का जवाब देने में विफल रहता है, तो हम अपने सभी 20 निर्वाचित प्रतिनिधियों (विधायकों) से इस्तीफा देने के लिए कहेंगे।

इसके अलावा ईएनपीओ ने नागालैंड में प्रसिद्ध हॉर्नबिल महोत्सव में भाग नहीं लेने का फैसला किया है। नागालैंड में 10 दिवसीय हॉर्नबिल महोत्सव 1 दिसंबर से शुरू होगा।

यह भी पढ़े : Weekly Love Horoscope : इन राशि वालों के चल रहे प्रेम प्रसंग में नजदिकियां बढ़ेगी, इन लोगों के नये प्रेम प्रसंग पारम्भ होंगे


नागालैंड विधानसभा में कुल 60 सीटें हैं। नागालैंड विधानसभा की कुल 60 सीटों में से 20 उन छह जिलों में हैं जहां ईएनपीओ की उपस्थिति है।

वे छह जिले हैं: किफिरे, लोंगलेंग मोन, नोक्लाक, शामतोर और त्युएनसांग। विशेष रूप से सत्तारूढ़ एनडीपीपी के पास इनमें से 15 सीटें हैं, सहयोगी भाजपा के पास चार हैं, और एक विधायक निर्दलीय है।