देश में पिछले 24 घंटे के दौरान 834 कोरोना संक्रमितों की मौत होने के बीच कोरोना मृत्यु दर घटकर दो प्रतिशत से कम 1.99 प्रतिशत हो गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि अस्पतालों में बेहतर और प्रभावी क्लीनिकल प्रबंधन और मरीजों के त्वरित और समय पर उपचार मुहैया कराने के लिए एंबुलेंस सेवा के समन्वय से कोरोना मरीजों का निर्बाध प्रभावी प्रबंधन संभव हो पाया है। इन प्रयासों से देश में कोरोना मृत्यु दर वैश्विक औसत मृत्यु दर से कम हो गयी है।

मंत्रालय की ओर से आज जारी आंकड़ों के मुताबिक 11 अगस्त को देशभर में 834 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गयी, जिससे अब तक इस संक्रमण के कारण जान गंवाने वाले व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 46 हजार के पार 46,091 हो गयी है। पिछले 24 घंटे के दौरान सबसे अधिक 256 कोरोना संक्रमितों ने महाराष्ट्र में दम तोड़ा। इसके अलावा तमिलनाडु में 118, कर्नाटक में 86,आंध्र प्रदेश में 87, उत्तर प्रदेश में 56, पश्चिम बंगाल में 49, पंजाब में 32, गुजरात में 23, मध्य प्रदेश में 18, बिहार में 16, जम्मू कश्मीर में 12,हरियाणा में 11, राजस्थान में 11 और ओडिशा में 10 कोरोना संक्रमित जिंदगी की जंग हार गये। 

इससे पहले 11 अगस्त को अंडमान निकोबार द्वीप समूह, असम, चंडीगढ़ छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, हिमाचल प्रदेश,झारखंड, केरल, मणिपुर, पुड्डुचेरी, तेलंगाना और उत्तराखंड में 10 से कम संख्या में कोरोना संक्रमितों की मौत हुई। पिछले 24 घंटे के दौरान अरुणाचल प्रदेश, दादर नगर हवेली एवं दमन दीव, लद्दाख, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड और सिक्किम में एक भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई। देश भर में मात्र मिजोरम ही ऐसा राज्य बचा है, जहां एक भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई है।