कोहिमा/गुवाहाटी। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Chief Minister Himanta Biswa Sarma) ने रविवार को नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो (Nagaland Chief Minister Neiphiu Rio) के साथ "पारस्परिक हित" के मुद्दों पर चर्चा की। इसकी जानकारी हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट के जरिए दी। हिमंता ने लिखा, 'नागालैंड के सीएम (Neiphiu Rio) जी के साथ आपसी हित, दोनों राज्यों में लोगों के कल्याण और नागालैंड के उप सीएम वाई पैटन (Deputy CM Y Patton) और पूर्व सीएम टीआर जेलियांग (Former CM TR Zeliang) से मुलाकात की। उन्होंने कहा इस उपस्थिति में हमारी दोस्ती को मजबूत करने के मुद्दों पर एक उपयोगी चर्चा हुई। मैं बैठक के दौरान रियो जी की गर्मजोशी की सराहना करता हूं।

बता दें कि पिछले साल जुलाई में नागालैंड के मुख्य सचिव और असम के मुख्य सचिव के बीच नागलैंड के दीमापुर में एक बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें डेसोई घाटी आरक्षित वन और सुरंगकोंग घाटी में दो स्थानों पर तनाव की स्थिति के कारण तनाव की स्थिति को कम करने के उद्देश्य से किया गया था। 

दोनों पक्षों द्वारा यह निर्णय लिया गया कि दोनों राज्यों के सुरक्षाकर्मी गतिरोध वाली जगह से एक साथ अपने-अपने आधार शिविरों में वापस चले जाएंगे। गौर हो कि नागालैंड और असम यथास्थिति बनाए रखने के लिए यूएवी (मानव रहित हवाई वाहन) और उपग्रह इमेजरी का उपयोग करके निगरानी द्वारा क्षेत्र की निगरानी करेंगे। मोकोकचुंग (नागालैंड) और जोरहाट (असम) जिलों के पुलिस अधीक्षक एक व्यवस्थित सुनिश्चित करेंगे अपने संबंधित बलों की वापसी और तत्काल मामले में इसके लिए जिम्मेदार होंगे।

दोनों राज्यों के बीच सीमा विवाद चरम पर पहुंचने के बाद मुख्य सचिवों की बैठक हुई थी। बता दें कि दोनों राज्यों की सेनाओं के बीच भीषण मुठभेड़ में असम पुलिस के पांच कर्मियों और एक नागरिक की मौत हो गई। एक घायल पुलिसकर्मी ने बाद में दम तोड़ दिया जिससे मारे गए पुलिसकर्मियों की कुल संख्या छह हो गई। इस घटना में कम से कम 50 लोग घायल हो गए थे।