BJP ने नागालैंड में चुनावों से पहले खेल कर दिया है। इसको लेकर बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा है कि भाजपा अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए सत्तारूढ़ एनडीपीपी के साथ सीट बंटवारे के समझौते पर कायम है। बीजेपी और नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी ने अगले साल 60 सदस्यीय सदन के चुनाव से पहले सीट बंटवारे का समझौता किया है। इस समझौते के मुताबिक बीजेपी 20 सीटों पर और एनडीपीपी 40 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

यह भी पढ़े : 2024 तक पूर्वोत्तर में सभी सीमा विवाद खत्म कर देंगे: अमित शाह

उन्होंने कहा की हम सरकार में हैं और हमारा गठबंधन एक सफल गठबंधन है। सीट बंटवारे के समझौते को अंतिम रूप दे दिया गया है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और नागालैंड के प्रभारी नलिन कोहली ने गुरुवार रात संवाददाताओं से कहा, हम फिर से नागालैंड के लोगों की सेवा करने की उम्मीद करते हैं।

यह पूछे जाने पर कि भाजपा ने अधिक सीटों पर चुनाव लड़ने पर विचार क्यों नहीं किया तो उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी का गठबंधन जारी रखने का इतिहास रहा है। जबकि हमारे साथी हमें छोड़ सकते हैं, हमारे पास अपने भागीदारों को छोड़ने का इतिहास नहीं है।

यह भी पढ़े : केंद्रीय योजनाओं के धीमी क्रियान्वयन के लिए केंद्र ने मिजोरम सरकार को जिम्मेदार ठहराया

यह पूछे जाने पर की भाजपा पहले नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) के साथ गठबंधन से बाहर आई थी और 2018 के विधानसभा चुनावों से पहले एनडीपीपी के साथ हाथ मिला लिया था, तो उन्होंने कहा की चुनाव का समय अलग है। इसके अलावा तब एनपीएफ में एक विभाजन था।