कोहिमा। पूर्वोत्तर राज्य नागालैंड (Nagaland) में असम निवासी पर्यटक (Assam tourists) की मौत हो गई। घटना की जानकारी दक्षिणी अंगामी युवा संगठन (SAYO) ने दी है। संगठन ने बताया कि पड़ोसी राज्य असम के एक घरेलू पर्यटक को ज़ुकौ घाटी के ऊपर एक विश्राम शिविर में मृत पाया गया।

SAYO के अध्यक्ष मेटेकरीली मेजुबा और महासचिव मेटेविजो सोफी ने बताया कि मृतक की पहचान असम के धेमाजी जिले के गोगामुख के बखंता नाथ के रूप में की गई है। युवा नेताओं ने कहा कि 17 जनवरी को पर्यटक के आकस्मिक निधन की खबर से हमलोग परेशान हो गए। 

संगठन द्वारा जारी बयान में बताया गया कि 'जानकारी के अनुसार मृत व्यक्ति एक घरेलू पर्यटक था जो 16 जनवरी को अपने चार अन्य दोस्तों के साथ जुकौ घाटी घूमने आया था। लेकिन दुर्भाग्य से 17 जनवरी की सुबह, मृतक को उसके साथियों ने मृत पाया। जिसके बाद दोस्तों ने बिना संबंधित अधिकारियों को सूचित किए तुरंत वहां से असम भाग गए।'

इसके बाद लगभग 30 स्थानीय स्वयंसेवकों खुजामा पुलिस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी और अन्य पुलिस कर्मियों के साथ मृतक के शव को जुकौ घाटी से विश्वेमा ग्राम जंक्शन ले आए। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए कोहिमा के दक्षिण पुलिस स्टेशन को सौंप दिया गया, जहां यह पाया गया कि मौत का कारण स्वाभाविक था और कोई वजह नहीं। इसके बाद 19 जनवरी को शव को उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

युवक के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए SAYO ने पुलिस के रिपोर्ट करने में लापरवाही और मृतक के साथियों के भाग जाने की निंदा की।