नॉर्थ-ईस्ट की एक महिला के यौन शोषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो को राजस्थान के जोधपुर का बताया जा रहा है, जहां नागालैंड की एक महिला ने हाल ही में आत्महत्या कर ली थी। हालांकि केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने इसका खंडन किया है और कहा है कि यह वीडियो जोधपुर वाली घटना से जुड़ा नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से लोगों को पहचान पर पुलिस की मदद करने की अपील की है।

वायरल हो रहे वीडियो में चार लड़के और एक लड़की को एक महिला का यौन शोषण करते हुए देखा जा सकता है। इस दौरान आरोपियों ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में एक शराब की बोतल घुसा दी। इस दौरान उन्होंने वीडियो बनाने के अलावा घटना को वीडियो कॉल के जरिए अन्य परिचितों को दिखाया।

लोगों ने वीडियो वायरल होने के बाद लोगों ने इसे राजस्थान के जोधपुर में महिला की आत्महत्या से जोड़ दिया। बता दें कि 23 मई को जोधपुर में नगालैंड की एक 25 वर्षीय महिला ने आत्महत्या कर ली और किराए के घर में फंदे पर झूलती मिली। वो जोधपुर में 'नवीन जूस रेस्टोरेंट' में काम करती थी। नागा स्टूडेंट्स यूनियन के राजस्थान यूनिट ने बताया कि रेस्टोरेंट के मालिक ने ही अंतिम संस्कार का खर्च उठाया।

वायरल वीडियो को जोधपुर का बताने वाले दावों का केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने खंडन किया और ट्वीट कर कहा, 'नॉर्थ-ईस्ट की एक महिला का 4 पुरुषों और एक महिला द्वारा क्रूरता से बलात्कार किए जाने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। ये जोधपुर आत्महत्या केस से जुड़ा मामला नहीं है। जोधपुर के पुलिस कमिश्नर से मेरी बातचीत हुई है। हालांकि सभी राज्यों की पुलिस को दोषियों की गिरफ्तारी के लिए हर संभव प्रयास करने होंगे।' इसके साथ ही उन्होंने असम पुलिस के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं देश के नागरिकों से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस की मदद करने की अपील करता हूं।'

असम पुलिस ने महिला के साथ रेप की घटना को अंजाम देने वाले पांचों आरोपियों की तस्वीर ट्विटर पर जारी की है और कहा है, 'ये तस्वीरें 5 दोषियों की हैं, जो वायरल वीडियो में एक लड़की को बेरहमी से प्रताड़ित करते दिखाई दे रहे हैं। इस घटना का समय और स्थान स्पष्ट नहीं है। इस अपराध या अपराधियों के बारे में जानकारी रखने वाला कोई भी व्यक्ति कृपया हमसे संपर्क कर सकता है। उन्हें आकर्षक इनाम दिया जाएगा।'