मिजोरम सरकार (Mizoram govt.) ने मध्य मिजोरम के सेरछिप शहर के एक सरकारी अस्पताल में एक महिला और दो नवजात शिशुओं की मातृ मृत्यु की मजिस्ट्रेट जांच का आदेश दिया। कई समूहों द्वारा उठाई गई शिकायतों और सोशल मीडिया पर लोगों के आक्रोश के बाद सरकार का आदेश आया है।
मिजोरम के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग (Mizoram health) की ओर से यह आदेश जारी किया गया है। सोशल मीडिया पर सेरछिप के तलंगपुई गांव निवासी मालसावमकिमी और उसके नवजात शिशु की मातृ मृत्यु और उसी जिले के सियालसिर गांव के वनलालहलिमपुई नाम की एक महिला के साथ दुर्व्यवहार और उसके बाद उसके नवजात बेटे की मौत पर शिकायतें और सार्वजनिक आक्रोश था।
इसमें कहा गया है कि वनलालहलिम्पुई के नवजात बेटे की 31 अक्टूबर को सेरछिप जिला अस्पताल में मौत हो गई, एक महीने बाद मालसावमकिमी और उसके नवजात बच्चे की 3 दिसंबर को उसी अस्पताल में मौत हो गई।

आदेश में कहा गया है, "मामले की सच्चाई का पता लगाने और लोगों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत के लिए जिम्मेदार अधिकारियों का पता लगाने के लिए मजिस्ट्रेट जांच करना जरूरी समझा गया।" जिलाधिकारी को जांच आदेश जारी होने के 30 दिनों के भीतर अपने निष्कर्ष या रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को सौंपने का भी निर्देश दिया गया है।