असम-मिजोरम सीमा विवाद (Assam-Mizoram border dispute) की समस्या अभी पूरी तरह सुलझी भी नहीं है कि एक वाहन चालक की मौत के मामले में फिर दोनों राज्यों के बीच फिर से टेंशन हो गया है। विवाद की वजह इस बार एक ट्रक ड्राइवर की हत्या है। हत्या के बाद असम-मिजोरम सीमांत के धोलाई इलाके में सनसनी फैल गई है। स्थानीय लोगों ने चालक के शव को रास्ते में रखकर असम-मिजोरम राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया।

खबरों के अनुसार, असम राज्य के कछाड़ जिले में रहने वाले एक आयल टैंकर के चालक की मिजोरम में मौत हो गई। इसको लेकर असम-मिजोरम बॉर्डर के धोलाई इलाके में लोगों के बीच आक्रोश फैल गया। जानकारी के अनुसार सोमवार को धोलाई लालटुग्राम रामप्रसादपुर गांव के आयल टैंकर चालक प्रवीन सिंह का शव घर में पहुंचते ही इलाके में सनसनी फैल गई। लोगों का आरोप है कि मिजारम में चालक की हत्या कर दी गई।

इसके बाद मंगलवार 306 राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) पर चालक का शव रखकर लोगों ने जाम लगा दिया। तीन दिन पहले चालक प्रवीन सिंह और खलासी नीतेन सिंह तेल भरने के लिए टैंकर लेकर मिजोरम गए थे। सोमवार को उनका शव घर पहुंचा। खलासी को मिजोरम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि मिजोरम में प्रवीन सिंह की हत्या की गई है। मिजोरम पुलिस पर साजिश के तहत खलासी को गिरफ्तार करने का भी लोगों ने आरोप लगाया है। स्थानीय लोगों ने रोड जामकर मांग की है कि प्रवीन सिंह के शव का शिलचर में फिर से पोस्टमार्टम किया जाए और खलासी नीतेन सिंह को रिहा किया जाए।