केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार से पहले राष्ट्रपति की ओर से 8 राज्यों में नए राज्यपालों की नियुक्ति कर दी गई है। राष्‍ट्रपति भवन की ओर से नई नियुक्तियों की जानकारी दी गई। आंध्र प्रदेश के बीजेपी नेता हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम का नया राज्यपाल बनाया गया है। वहीं, गुजरात बीजेपी के नेता मंगूभाई छगनभाई पटेल मध्य प्रदेश के राज्यपाल होंगे।

गोवा के बीजेपी नेता राजेंद्र विश्‍वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्‍यपाल बनाकर भेजा जा रहा है। पूर्वोत्तर के राज्यों में दो पुराने बीजेपी नेताओं को गवर्नर पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इनमें त्रिपुरा के नए गवर्नर सत्यदेव नारायण आर्य एवं मिजोरम के राज्यपाल हरि बाबू कंभमपति के नाम शामिल हैं।

त्रिपुरा के नए राज्यपाल बने सत्यदेव नारायण आर्य अब तक हरियाणा के गवर्नर थे। आर्य को अब हरियाणा से त्रिपुरा ट्रांसफर कर दिया गया है। बिहार से ताल्लुक रखने वाले सत्यदेव नारायण आर्य पूर्व में राजगीर से 8 बार विधायक रह चुके हैं। इसके अलावा वह बिहार सरकार में ग्रामीण विकास और खान विभागों के मंत्री रहे हैं। सत्यदेव नारायण आर्य की शिक्षा पटना विश्वविद्यालय से हुई है और वह करीब 6 दशक तक RSS से जुड़े रहे हैं। सत्यदेव नारायण आर्य को साल 2018 में हरियाणा का गवर्नर बनाया गया था।

मिजोरम के राज्यपाल बने हरि बाबू कंभमपति आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम से आते हैं। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के करीबी हरि बाबू आंध्र राज्य के गठन के लिए चलाए गए आंदोलन में सक्रिय रूप से भागीदारी कर चुके हैं। वह 2014 में विशाखापत्तनम से लोकसभा के सांसद बने थे और अब उन्हें मिजोरम का राज्यपाल बनाया गया है। आंध्र यूनिवर्सिटी इंजिनियरिंग कॉलेज से पढ़ चुके हरि बाबू छात्र राजनीति से निकलकर आए राजनेताओं में से एक हैं। वह आंध्र में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष समेत तमाम पदों पर रह चुके हैं।